G.K

भारत के उत्तर पश्चिमी मैदान में पश्चिमी विक्षोभ से जाड़े में होने वाली वर्षा की मात्रा क्रमशः कम होती जाती है

भारत के उत्तर पश्चिमी मैदान में पश्चिमी विक्षोभ से जाड़े में होने वाली वर्षा की मात्रा क्रमशः कम होती जाती है, bharat ke uttr pshchimi maidan mein pshchimi vikshobh se jaade mein hone waali varsha ki maatraa krmash kam ho jaati hai

भारत के उत्तर पश्चिमी मैदान में पश्चिमी विक्षोभ से जाड़े में होने वाली वर्षा की मात्रा क्रमशः कम होती जाती है

  • पूर्व से पश्चिम की ओर
  • पश्चिम से पूर्व की ओर
  • उत्तर से दक्षिण की ओर
  • दक्षिण से उत्तर की ओर

More Important Article

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close