Study Material

CBSE Board 12th Class Accountancy Question Paper

आज इस आर्टिकल में हम आपको CBSE Board 12th Class Accountancy Question Paper के बारे में बताने जा रहे है. इस पेपर के माध्यम से आप CBSE के Board 12th Class की तैयारी आसानी से कर सकते है. cbse 12th Accountancy question paper,cbse class xii board Accountancy paper,Accountancy board exam,cbse class 12 Accountancy question wise breakup,cbse board exam 2019,cbse class 12 Accountancy paper pattern,cbse,class 12,cbse class 12th Accountancy question paper 2018,Accountancy ,cbsce class 12th Accountancy question paper 2018,class 12 Accountancy most important question,cbse board exam,how to pass in Accountancy class 12

CBSE Board 12th Class Accountancy Question Paper

  1. अतुल एवं नीरा एक फ़र्म में सांझेदार थे तथा 3:2 के अनुपात में लाभ बाँट रहे थे उन्होंने मिताली को एक नए साझेदार के रूप में प्रवेश दिया फर्म की ख्याति का मूल्यांकन रू 2,00,000 किया गया मिताली अपने हिस्से की रू 20,000 की ख्याति प्रीमियम नगद लाई जिसे पूर्ण रूप से अतुल के पूंजी खाते के जमा पक्ष में लिख दिया गया नए लाभ-विभाजन अनुपात की गणना कीजिए
  2. ‘निर्गमित पूंजी का क्या अर्थ है? अथवा ‘कर्मचारी स्टॉक ऑप्शन योजना’ का क्या अर्थ है?
  3. ‘न्यायालय का हस्तक्षेप’ के आधार पर सांझेदारी के विघटन तथा सांझेदारी फर्म के विघटन के बीच अन्तर्भेद कीजिए
  4. एक साझेदार के अवकाश ग्रहण करने पर ‘अधिलाभ अनुपात’ का क्या कार्य है अथवा पी, क्यू तथा आर एक फर्म में साझेदार थे 131 मार्च, 2018 को आर ने अवकाश ग्रहण किया आर को भुगतान की जाने वाली राशि रू 2,17,000 को उसके ऋण खाते में हस्तांतरित कर दिया गया साझेदारी अधिनियम, 1932 के प्रावधानों के अनुरूप आर इस राशि पर ब्याज प्राप्त करने के लिए सहमत हो गया आर को जिस दर से ब्याज का भुगतान किया जाएगा उसका उल्लेख कीजिए
  5. छवि एवं नेहा एक फर्म में साझेदार थी तथा लाभ हानि बराबर-बराबर बाँट रही थी प्रत्येक तिमाही के प्रारम्भ में छवि ने एक निश्चित राशि का आहरण किया आहरण पर 6% वार्षिक दर से ब्याज लगाना है वर्ष के अंत में, छवि के आहरण की राशि पर ब्याज रू 900 था आहरण पर ब्याज लगाने की आवश्यक रोजनामचा प्रिविष्ट कीजिए
  6. एक अलाभकारी संगठन के अंतिम खाते तैयार करते समय ‘विशिष्ट दान’ का लेखा कैसे किया जाता है अथवा एक अलाभकारी संगठन का आय एवं व्यय खाता बनाते समय लेखांकन के आधार का उल्लेख कीजिए
  7. अनुज तथा बेनू की फर्म की पूंजी रू 10,00,000 है तथा ब्याज की बाजार दर 15% है प्रत्येक साझेदार का वार्षिक वेतन रू 60,000 है पिछले तिन वर्षों का लाभ रू 3,00,000, रू 3,60,000 तथा रू 4,20,000 था फर्म की ख्याति का मूल्यांकन पिछले तीन वर्षों के औसत अधिलाभों के दो वर्षों के क्रय के आधार पर किया जाना है फर्म की ख्याति की गणना कीजिए
  8. एसिको क्लब की निम्नलिखित मदों को 31 मार्च, 2018 को समाप्त हुए वर्ष के वित्तीय विवरणों में किस प्रकार प्रस्तुत किया जाएगा :
विवरण नाम राशि (रू) जमा राशि (रू)
टूर्नामेंट फंड 1,50,000
टूर्नामेंट फंड विनियोग 1,50,000
टूर्नामेंट फंड विनियोगों से आय 18,000
टूर्नामेंट व्यय 12,000

अतिरिक्त सूचना:

टूर्नामेंट फंड विनियोगों पर रू 6,000 का ब्याज अर्जित हुआ

9. गर्वित लिमिटेड ने रू 100 प्रत्येक के 3,000 11% ऋणपत्रों को 6% बट्टे पर निर्गमित करने के लिए आवेदन आमंत्रित किए पूर्ण राशि आवेदन पर देय थी 3,600 ऋणपत्रों के लिए आवेदन प्राप्त हुए 600 ऋणपत्रों के आवेदनों को रद्द कर दिया गया तथा आवेदन राशि वापिस कर दी गयी शेष आवेदकों को ऋणपत्रों का आबंटन कर दिया गया गर्वित लिमिटेड की पुस्तको में उपरोक्त लेनदेनों की आवश्यक रोजनामचा प्रविष्टियाँ कीजिए अथवा पी लिमिटेड ने 1 अप्रैल, 2015 को रू 100 प्रत्येक के 6,000 12% ऋणपत्रों को सममूल्य पर निर्गमित किया जिनका शोधन 7% प्रीमियम पर करना था ऋणपत्रों का शोधन तीसरे वर्ष के अंत में किया जाना है 12% ऋणपत्रों के निर्गमन पर हानि खाता तैयार कीजिए

10. 1 अप्रैल, 2014 को यूनीलिंक लिमिटेड के रू 12,00,000 9% ऋणपत्र आदत्त थे, जिनका शोधन 8% प्रीमियम पर दो बराबर वार्षिक किश्तों में 31 मार्च, 2018 से प्रारम्भ करना था 31 मार्च, 2017 को कम्पनी के पास रू 3,00,000 का ऋणपत्र शोधन संचय था 31 मार्च, 2018 को समाप्त वर्ष के लिए यूनीलिंक लिमिटेड की पुस्तकों में ऋणपत्रों के शोधन की आवश्यक रोजनामचा प्रविष्टियाँ कीजिए

11. अंकित, बाबी तथा कार्तिक एक फ़ार्म में सांझेदार थे तथा 4: 3: 3 के अनुपात में लाभों का बँटवारा करते थे 31-3-2018 को फर्म का विघटन हो गया विविध परिसम्पतियों (रोकड़ एवं बैंक के अतिरिक्त) तथा तृतीय पक्ष की देयताओं को वसूली खाते में स्थानातरित करने के पश्चात निम्नलिखित लेनदेनों के लिए आवश्यक रोजनामचा प्रविष्टियाँ कीजिए:

(i) फर्म के पास रू 80,000 का स्टॉक था अंकित ने 50% स्टॉक 20% छुट पर ले लिया जबकि बचा हुआ स्टॉक लागत पर 30% लाभ पर बेच दिया गया

(ii) लेनदारों में सम्मलित क्षति के एक दावे के दायित्व का रू 32,000 में निपटान किया गया जिसके विरुद्ध पुस्तकों में केवल रू 13,000 प्रदान किए गए थे फर्म के कुल लेनदार रू 50,000 थे

(iii) बाबी की बहन के रू 20,000 के ऋण का रू 2,000 ब्याज सहित भुगतान कर दिया गया

(iv) कार्तिक के रू 12,000 के ऋण का निपटान रू 12,500 में कर दिया गया

12. राधिका, बानी तथा चित्रा एक फर्म के साझेदार थे तथा 2: 3: 1 के अनुपात में लाभ व हानि बाँटते थे 1 अप्रैल, 2018 से उन्होंने 3: 2: 1 के अनुपात में भावी लाभ व हानि बाँटने का निर्णय किया उस तिथि को उनका स्थिति-विवरण लाभ हानि खाते के नाम से रू 24,000 तथा सामान्य संचय में रू 1,44,000 का शेष दर्शा रहा था यह भी सहमति हुई की:

(क) फर्म का ख्याति का मूल्यांकन रू 1,80,000 किया जाएगा

(ख) भूमि (जिसका पुस्तक रू 3,00,000) का मूल्यांकन रू 4,80,000 किया जाएगा

उपरोक्त परिवर्तनों के लिए आवश्यक रोजनामचा प्रविष्टियाँ कीजिए

13. निम्न प्राप्ति एवं भुगतान खाते तथा दी गयी अतिरिक्त सूचना से 31 मार्च, 2018 को समाप्त हुए वर्ष के लिए सीयर्स क्लब नोएडा का आय तथा व्यय खाता तथा स्थिति-विवरण तैयार कीजिए

31 मार्च, 2018 को समाप्त वर्ष के लिए सीयर्स क्लब का प्राप्ति तथा भुगतान खाता

प्राप्तियाँ राशि (रू) भुगतान राशि (रू)
शेष नीचे लाए 20,000 स्टेशनरी 23,400
चंदा 12% निवेश 8,000
2016-17 40,000 बिजली व्यय 10,600
2017-18 94,000 लेक्चरों पर व्यय 30,000
2018-19 7.200 1,41,200  क्रीडा उपकरण 59,000
भवन के लिए दान 40,000 पुस्तकें 40,000
निवेशों पर ब्याज 800 शेष नीचे ले गए 50,000
सरकारी अनुदान 17,400
पुराने फर्नीचर का विक्रय
(पुस्तक मूल्य रू 4,000) 1,600
2,21,000 2,21,000

अतिरिक्त सूचना:

(i) क्लब के 200 सदस्य है तथा प्रत्येक रू 1,000 वार्षिक चंदा देता है पिछले वर्ष के लिए रू 60,000 अदत्त थे तथा पिछले वर्ष 25 सदस्यों ने चालु वर्ष के लिए अग्रिम भुगतान किया

(ii) 1-4-2017 को स्टेशनरी का स्टॉक रू 3,000 तथा 31-3-2018 को रू 4,000 था

14. गिरीजा,यतिन तथा जुबिन साझेदार थे तथा 5: 3: 2 के अनुपात में लाभ बांटते थे 1 अगस्त, 2015 को जुबिन का देहांत हो गया सभी समायोजनों के पश्चात जुबिन के निष्पादक को रू 90,300 देय थे निष्पादक को रू 10,300 का रोकड़ भुगतान तुरंत कर दिया गया तथा शेष 31 मार्च, 2017 से शुरू करके दो बराबर वार्षिक किश्तों में 6% प्रतिवर्ष की दर से ब्याज सहित किया जाएगा प्रत्येक वर्ष 31 मार्च को खाते बंद किए जाते है उसे पूर्ण भुगतान किए जाने तक जुबिन के निष्पादक का खाता तैयार कीजिए

15. 1 अप्रैल, 2017 को सोनू तथा रजत ने एक साझेदारी फर्म शुरू की उन्होंने क्रमशः रू 8,00,000 तथा रू 6,00,000 पूंजी लगाई तथा 3:2 के अनुपात में लाभ-हानि बाँटने का निर्णय लिया साझेदारी संलेख में सोनू को रू 20,000 प्रति मॉस वेतन देने का रजत को विक्रय पर 5% कमीशन देने का प्रावधान था इसमें पूंजी पर 8%प्रतिवर्ष की दर से ब्याज देने का भी प्रावधान था सोनू ने 1 दिसम्बर 2017 को रू 20,000 का आहरण किया तथा रजत ने प्रत्येक मांस के अंत में रू 5,000 का आहरण किया आहरण पर ब्याज की दर 6% प्रतिवर्ष है लाभ-हानि खाते के अनुसार 31 मार्च, 2018 को समाप्त हुए वर्ष के लिए शुद्ध लाभ रू 4,89,950 था 31 मार्च, 2018 को समाप्त हुए वर्ष के लिए फर्म का विक्रय रू 20,00,000 था  उपरोक्त लेनदेनों के लिए सोनू तथा रजत की पुस्तकों में आवश्यक रोजनामचा प्रविष्टियाँ कीजिए

अथवा

जय,विजय तथा कारन एक वास्तुकला फर्म के साझेदार थे तथा 2: 2: 1 के अनुपात में लाभ बांटते थे उनके साझेदारी सलेख में निम्न का प्रावधान था

(i) जय तथा विजय प्रत्येक को रू 15,000 मासिक वेतन

(ii) कारन को रू 5,00,000 लाभ की गारंटी दी गई तथा जय ने गारंटी दी कि वह रू 2,00,000 वार्षिक फीस अर्जित करेगा कारन को दी गई गारंटी के फलस्वरूप उत्पन्न किसी भी कमी को जय तथा विजय 3:2 के अनुपात में बाँटेगे

31 मार्च, 2018 को समाप्त हुए वर्ष में जय ने रू 1,75,000 की फ़ीस अर्जित की तथा फर्म का लाभ रू 15,00,000 था

अपने कार्य को स्पष्ट दर्शाते हुए 31 मार्च, 2018 को समाप्त हुए वर्ष के लिए लाभ-हानि विनियोजन खाता तथा जय,विजय तथा कारन के पूंजी खाते तैयार कीजिए

16. डी.एफ. लिमिटेड ने रू 10 प्रत्येक के 50,000 अंशों को रू 2 प्रति अंश प्रीमियम पर निर्गमित करने के लिए आवेदन आमिन्त्रत किए राशि का भुगतान निम्न प्रकार से देय था

आवेदन पर : रू 3 प्रति अंश (रू 1 प्रीमियम सहित)

आबटन पर : रू 3 प्रति अंश (रू 1 प्रीमियम सहित)

प्रथम याचना पर : रू 3 प्रति अंश

दूसरी तथा अंतिम याचना पर : शेष राशि

70,000 अंशों के लिए आवेदन प्राप्त हुए निम्न आधार पर आबटन किया गया:

5,000 अंशों के आवेदन प्राप्त हुए निम्न आधार पर आबंटन किया गया:

5,000 अंशों के आवेदकों को – पूर्ण

5,000 अंशों के आवेदकों को – 90%

शेष आवेदन रद्द कर दिए गए आबंटन पर रू 1,11,000 प्राप्त हुए उन अंशधारियों ने जिन्हें आनुपातिक आधार पर अंश आबंटित किए थे, आबंटन पर पूर्ण धनराशी का भुगतान कर दिया कुछ अंशधारी जिन्हें अंशों का आबंटन पूर्ण रूप से किया गया, आबंटन राशि का भुगतान करने में असफल रहे प्रथम याचना पर रू 1,20,000 प्राप्त हुए निदेशकों ने उन अंशों का हरण करने का निर्णय लिया जिन पर आबंटन एवं याचना राशि देय थी इनमें से आधे अंशों को रू 8 प्रति वर्ष प्रदत्त पुन: निर्गमित कर दिया गया अंतिम याचना मांगी नहीं गयी थी डी. एफ. लिमिटेड की पुस्तकों में उपरोक्त लेनदेनों के लिए आवश्यक रोजनामचा प्रविष्टियाँ कीजिए अथवा ईएफ लिमिटेड ने रू 50 प्रत्येक के 80,000 समता के अंशों को 20% के प्रीमियम पर निर्गमित करने के प्रीमियम पर निर्गमित करने के लिए आवेदन आमंत्रित किए राशि का भुगतान निम्न प्रकार दे देय था

आवेदन पर: रू 20 प्रति अंश (रू 5 प्रीमियम सहित)

आबंटन पर: रू 15 प्रति अंश (रू 5 प्रीमियम सहित)

प्रथम याचना पर: रू 15 प्रति अंश

दूसरी तथा अंतिम याचना पर: शेष राशि

1,20,000 अंशों के लिए आवेदन प्राप्त हुए 20,000 अंशों के लिए आवेदनों को रद्द कर दिया गया तथा शेष आवेदकों को आनुपातिक आधार पर आबंटन कर दिया गया

4,000 अंशों की धारिक, सीमा आबंटन राशि का भुगतान करने में असफल रही इसके पश्चात प्रथम याचना राशि मांग ली गई सीमा ने आबंटन राशि का भुगतान प्रथम याचना के साथ किया सहज जिसने 2,500 अंशों के लिए आवेदन किया था, प्रथम याचना राशि का भुगतान करने में असफल रहा सहज के अंशों का हरण लिया गया तथा बाद में इन्हें गीता को रू 60 प्रति अंश, रू 50 प्रति अंश प्रदान पुन: निर्गमित कर दिया गया अंतिम याचना नहीं मांगी गई थी

ईएफ लिमिटेड की पुस्तकों में उपरोक्त लेनदेनों के लिए अदत्त याचना खोलकर आवश्यक रोजनामचा प्रविष्टियाँ कीजिए

17. अकुल,बकुल तथा चन्दन एक फर्म के साझेदार थे तथा 2: 2: 1 के अनुपात में लाभ बाँटते थे 31 मार्च, 2018 को उनको स्थिति-विवरण निम्न प्रकार से था

31-3-2018 को अकुल, बकुल तथा चन्दन का स्थिति-विवरण

देयताएँ राशि (रू) सम्पतियाँ राशि (रू)
विभिन्न लेनदार 45,000 बैंक के रोकड़ 42,000
कर्मचारी भविष्य निधि कोष 13,000 देनदार 60,000
समान्य संचय 20,000 घंटा: संदिग्ध ऋणों के लिए प्रावधान 2,000
पूंजी लिए प्रावधान 2,000 58,000
अकुल 1,60,000 स्टॉक 80,000
बकुल 1,20,000 फर्नीचर 90,000
चन्दन 92,000 3,72,000 संयंत्र तथा मशीनरी 1,80,000
4,50,000 4,50,000

उपरोक्त तिथि को बकुल ने अवकाश ग्रहण किया तथा यह सहमति हुई की:

(i) संयंत्र तथा मशीनरी का 10% अव-मूल्यांकन किया गया था

(ii) संदिग्ध ऋणों के लिए प्रावधान को देनेदारों के 15% तक बढ़ाया जाएगा

(iii) फर्नीचर को रू 87,000 तक घटाया जाएगा

(iv) फर्म की ख्याति का मूल्यांकन रू 3,00,000 किया गया तथा बकुल के अंश का समायोजन अकुल तथा चन्दन के पूंजी खातों के माध्यम से किया जाएगा

(v) नई फर्म की पूंजी खाते तथा पुनर्गठित फर्म का स्थिति-विवरण तैयार कीजिए अथवा संजना तथा आलोक एक फर्म के सांझेदार थे तथा 3: 2 के अनुपात में लाभ-हानि बाँटते थे 31 मार्च 2018 को उनका स्थिति-विवरण निम्न प्रकार से था

31 मार्च, 2018 को संजना तथा आलोक का स्थिति-विवरण

देयताएँ राशि (रू) सम्पतियाँ राशि (रू)
लेनदार 60,000 रोकड़ 1,66,000
कामगार क्षतिपूर्ण कोष 60,000 देनदार 1, 46,000
पूंजी घंटा: संदिग्ध ऋणों के
संजना 5,00,000 लिए प्रावधान 2,000 1,44,000
आलोक 4,00,000 9,00,000 स्टॉक 1,50,000
निवेश 2,60,000
फर्नीचर 3,00,000
10,20,000 10,20,000

1 अप्रैल, 2018 को उन्होंने निम्न शर्तों पर निधि को लाभ के 1/4 भाग के लिए एक नया साझेदार बनाया:

(क) फर्म की ख्याति का मूल्यांकन रू 4,00,000 किया गया तथा निधि ख्याति प्रीमियम की अपने भाग की आवश्यक राशि नगद लाई, जिसके आधे भाग का पुराने साझेदारों द्वारा आहरण कर लिया गया

(ख) स्टॉक को 20% बढ़ाया जाएगा तथा फर्नीचर को 90% तक कम किया जाएगा

(ग) निवेशों का मूल्यांकन रू 3,00,000 किया जाएगा इस मूल्य पर आलोक ने निवेश ले लिए

(घ) निधि अपनी पूंजी के लिए रू 3,00,000 लाई तथा संजना एवं आलोक की पुन्जियाँ का समायोजन नए लाभ अनुपात में किया गया

पुर्नमूल्यांकन खाता, सांझेदारों के पूंजी खाते तथा निधि के प्रवेश पर पुनर्गठित फर्म का स्थिति-विवरण तैयार कीजिए

18. एक वित्तीय उद्यम, मेवो लिमिटेड ने रू 3,00,000 का ऋण दिया, रू 6,00,000 अन्य कम्पनियों के अंशों में विनियोजित किए तथा रू 9,00,000 की मशीनरी क्रय की इसने अंशों में विनियोग पर रू 70,000 का लाभांश प्राप्त किया कम्पनी ने रू 79,000 के पुस्तकीय मूल्य की एक पुरानी मशीन को रू 10,000 की हानि बेच दिया विनियोग गतिविधियों से रोकड़ प्रवाह की गणना कीजिए

19. रोकड़ प्रवाह विवरण तैयार करने के उद्देश्य से रोकड़-तुल्य का अर्थ दीजिए

20. ‘वित्तीय विवरणों के विश्लेषण’ के किन्ही चार उद्देश्यों को संक्षेप में समझाइए अथवा कम्पनी अधिनियम, 2013 की अनुसूची-III, भाग-I के अनुसार एक कंपनी के स्थिति-विवरण में निम्नलिखित मदों को किन मुख्या शीर्षकों एवं उप-शीर्षकों के अंतर्गत दर्शाया जाएगा, उल्लेख कीजिए

(i) आग्रिम-भुगतान बीमा

(ii) ऋणपत्रों में विनियोग

(iii) अदत्त याचनाएँ

(iv) अदत्त लाभांश

(v) पूंजी संचय

(vi) खुदरा औजार

(vii) पूँजीगत कार्य प्रगति पर

(viii) पेट्न्ट्स जिनको कम्पनी द्वारा विकसित किया गया

21. (अ) निम्नलिखित सूचना से बी.एन. लिमिटेड के ‘प्रचालनों से आगम’ की गणना कीजिए:

चालू परिसम्पतियाँ रू 8,00,000

तवरित अनुपात है: 1.5:1

चालू अनुपात है: 2:1.

स्टॉक आवर्त अनुपात है: 6 गुणा

माल की बिक्री, लागत पर 25% लाभ, पर की गई

(ब) एक कम्पनी का प्रचालन अनुपात 60% है उल्लेख कीजिए की रू 20,000 लागत के माल का क्रय प्रचालन अनुपात को बढ़ाएगा, घटाएगा अथवा उसमें कोई परिवर्तन नहीं करेगा

अथवा

(अ) निम्नलिखित सूचना से ‘कुल परिस्मतियों पर ऋण अनुपात’ की गणना कीजिए

समता अंश पूंजी रू 4,00,000

दीर्घावधि ऋण रू 1,80,000

आधिक्य-अर्थात लाभ-हानि विवरण का शेष रू 1,00,000

सामान्य संचय रू 70,000

चालू दायित्व रू 30,000

दीर्घावधि प्रावधान रू 1,20,000

(ब) एक कंपनी का ऋण समता अनुपात 1:2 है उल्लेख कीजिए की ‘बोनस अंशों का निर्गमन’ ऋण समता अनुपात को बढ़ाएगा, घटाएगा अथवा उसमें कोई परिवर्तन नहीं होगा

22. 31 मार्च, 2017 तथा 2018 को समाप्त हुए वर्षों के लाभ-हानि विवरण से उदधृत निम्नलिखित सूचनाओं से एक तुलनात्मक लाभ-हानि विवरण तैयार कीजिए

विवरण 2017-18 2016-17
प्रचालनों से आगम रू 6,00,000 रू 5,00,000
अन्य आय (प्राचलनों से आगम का %) 20% 20%
कर्मचारी हित-लाभ व्यय (कुल आगम का %) 40% 30%
कर दर 50% 50%

23. 31-3-2018 को किएरो लिमिटेड के निम्नलिखित स्थिति-विवरण तथा अतिरिक्त सूचना से एक रोकड़ प्रवाह विवरण तैयार कीजिए

किएरो लिमिटेड

31-3-2018 का स्थिति-विवरण

विवरण नोट संख्या 31-3-18 (रू) 31-3-17 (रू)
समता एवं देयताएँ

(1) अंशधारी कोष

(अ) अंश पूंजी

(ब) संचय एवं आधिक्य

 

 

 

1

 

7,90,000

4,60,000

5,80,000

1,20,000

(2) अचल देयताएँ

दीर्घावधि ऋण

2 5,00,000 3,00,000
(3) चालू देयताएँ

(अ) अल्पावधि ऋण

(ब) अल्पावधि प्रावधान

 

3

4

1,15,000

1,18,000

42,000

46,000

कुल 19,83,000 10,88,000
II. परिसम्पतियाँ

(1) अचल परिसम्पतियाँ

स्थायी परिसम्पतियाँ

(i) मूर्त परिसम्पतियाँ

(ii) अमूर्त परिसम्पतियाँ

5

6

9,80,000

2,68,000

6,35,000

1,70,000

(2) चालू परिसम्पतियाँ

(अ) चालू विनियोग

(ब) व्यापारिक प्राप्य

(स) रोकड़ एवं रोकड़ तुल्य

 

1,40,000

4,40,000

1,55,000

70,000

1,50,000

63,000

कुल 19,83,000 10,88,000
नोट संख्या  विवरण 31-3-18 (रू) 31-3-17 (रू)
1. संचय एवं आधिक्य

आधिक्य (लाभ-हानि विवरण में शेष)

सामान्य संचय

3,20,000

1,40,000

4,60,000

60,000

60,000

1,20,000

2. दीर्घावधि ऋण

12% ऋणपत्र

5,00,000

5,00,000

3,00,000

3,00,000

3. अल्पावधि ऋण

बैंक अधिविकर्ष

1,15,000

1,15,000

42,000

42,000

4. अल्पावधि प्रावधान

कर प्रावधान

1,18,000

1,18,000

46,000

46,000

5. मूर्त परिसम्पतियाँ

संयंत्र एवं मशनरी

घटा : एकत्रित (संचित) मुल्याह्यास

11,00,000

(1,20,000)

9,80,000

7,50,000

(1,15,000)

6,35,000

6. अमूर्त परिसम्पतियाँ

ख्याति

2,68,000

2,68,000

1,70,000

1,70,000

अतिरिक्त सूचना:

1 सितम्बर, 2017 को 12% ऋणपत्रों का निर्गमन किया गया

18. ‘डाटा आधार डिजाइन’ का क्या अर्थ है?

19. ‘साराश-पूछताछ’ (समरी-क्वैरी) का क्या अर्थ है?

20. ‘लेखांकन सॉफ्टवेयर’ में सुरक्षा सम्बन्धी विशेषताओं का होना आवश्यक क्यों है ऐसे किन्हीं दो तरीकों को समझाइए जो डाटा सुरक्षा प्रदान करते है

21. ‘नल वैल्यू तथा कॉम्प्लेक्स एंट्रीब्युट्रास’ को समझाइए अथवा ‘अंतिम प्रविष्टियों’ तथा ‘समायोजन प्रविष्टियों’ को समझाइए

22. ‘पारदर्शिता नियंत्रण’ तथा ‘मापनीयता’ को अभिकलिन्न लेखांकन प्रणाली की विशेषताओं के रूप में समझाइए अथवा ‘पे रोल लेखांकन उपप्रणाली’ तथा ‘लागत लेखांकन उपप्रणाली’ को समझाइए

23. उस कार्य (फंक्शन) का नाम दीजिए तथा समझाइए जो स्थायी भुगतान तथा ब्याज वाले निवेश के भावी मूल्य की वापसी करता है

More Important Article

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close