Science

उपग्रह प्रक्षेपण यान प्रौद्योगिकी से जुड़े सवाल और उनके जवाब

आज इस आर्टिकल में उपग्रह प्रक्षेपण यान प्रौद्योगिकी से जुड़े सवाल और उनके जवाब दे रहे है।

[amazon_link asins=’B0756RF9KY,B078BNQ313,B071HWTHPH,B01DDP7D6W,B077Q19RF9,B0784D7NFX,B077PWBC7J,B01FM7GGFI,B077PWK5QD’ template=’ProductCarousel’ store=’kkhicher1-21′ marketplace=’IN’ link_id=’7d9dcdb8-9be5-11e8-9095-c1e2cf8a2b63′]


Contents show

भारत द्वारा विकसित प्रथम प्रक्षेपण यान कौन सा है?

SLV-3 (साधारण क्षमता)

SLV-3 का पहला सफल प्रक्षेपण कब हुआ?

18 जुलाई, 1980 को

SLV-3 द्वारा कितने की ग्रह भारत के उपग्रह पृथ्वी की कक्षा में स्थापित हो सकते थे?

40 किग्रा

ASLV द्वारा कितने की ग्रह के उपग्रह पृथ्वी  की निचली कक्षा में प्रक्षेपित किए जा सकते हैं?

100 से 150 किग्रा

ASLV ने कुल कितने प्रक्षेपण कर आए थे?

4

PSLV दोबारा कितने भर-भर के दूर संवेदी उपग्रह सूर्य तुल्यकालिक कक्षा में स्थापित किए जा सकते हैं?

1,200 किग्रा

PSLV कितनी ऊंचाई तक उपग्रह प्रक्षेपित कर सकता है?

900 किमी

GSLV कितने किग्रा भारत के उपग्रह को भू- स्थैतिक कक्षा में स्थापित कर सकता है?

4,000 किमी

GSLV कितनी ऊंचाई तक उपग्रह प्रक्षेपित कर सकता है?

36,000 किमी

GSLV का प्रथम प्रक्षेपण कब हुआ था?

28 मार्च, 2001 को (असफल)

GSLV तकनीक विकसित करने वाला भारत विश्व का कौन सा देश है?

छठा

क्रायोजेनिक अर्थात निम्नतापी की तकनीक किसमें प्रयुक्त होती है?

GSLV

क्रायोजेनिक तकनीक का पहली बार प्रयोग अमेरिका द्वारा किस राकेट के प्रक्षेपण में किया गया था?

एटलांस संटूर

भारत में क्रायोजेनिक तकनीक का सफल परीक्षण कब किया था?

28 अक्टूबर, 2006 को

क्रायोजेनिक में हाइड्रोजन कितने ताप पर तरल अवस्था प्राप्त करती है?

250०C

क्रायोजेनिक तकनीक द्वारा सीजन को कितने ताप पर तरल अवस्था में लाया जाता है?

183०C

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close