G.K

भारत की आदिम जाति समूह के बारे में जानकारी

यहाँ इस आर्टिकल में हम आपको भारत की आदिम जाति समूह के बारे में जानकारी के बारे में बताने जा रहे है. भारतीय उपमहाद्वीप की वर्तमान संख्या के निम्नलिखित पर जातीय समूह में बांटा गया है.-

  1. निर्गीटो
  2. प्रोटो आस्ट्रेलायड
  3. मंगोलायड
  4. भूमध्य सागरीय
  5. नॉर्डिक

देश की कुल जनसंख्या के 16% लोग अनुसूचित जाति के हैं. दृष्टि से अनुसूचित जाति की सर्वाधिक संख्या उत्तर प्रदेश में है. इसके बाद क्रमशः पश्चिम बंग है. बिहार, आंध्र प्रदेश एवं तमिलनाडु का स्थान है. देश की कुल जनसंख्या के 8.2 लोग अनुसूचित जन जाति के हैं. राज्य की कुल जनसंख्या में जनजातीय जनसंख्या का सर्वाधिक प्रतिशत मिजोरम में है, जबकि केंद्र शासित प्रदेशों में लक्ष्य द्वीप में सर्वाधिक जनजाति प्रतिशत है.

भारतीय प्रदेश की आदिम जातियां

अशोक बोडो, कछारी, चकमा
अरुणाचल प्रदेश वारयास, भोपा, आपातानी, डाफला
मेघालय गारो, खासी, जयंतीया
नागालैंड नागा, नबुई, आगामी
मणिपुर कुकी, मेंठी
मिजोरम लोखर, पावि, मात
पश्चिम बंग हो, कोरा, खड़िया
बिहार\झारखंड बेंगा, बंजारा, मुंडा, भुइया, खोड
उत्तर प्रदेश\उत्तराखंड थारू, भोटीया,कोल,ख़ास
उड़ीसा कोल्हा, भुजिया, चेंचू महाली
हिमाचल प्रदेश भील, मिहाल, बिरहोर, कमार, ,
पंजाब स्वांगला, बोध
राजस्थान मीणा, बक्चा, गोंडा, रथवा, बंजारा
तमिलनाडु कोटा, मालसर, टोडा
केरल कोराग, माला, कादर, मोपला, मलाई
महाराष्ट्र ढाका, गोंड, भील, धनवार, भुजिया, वानरी
आंध्र प्रदेश सुगाली, नायक, पुलिया, कोया
गुजरात भील, कोली, बंजारा
सिक्किम लेपचा
त्रिपुरा रियाग

Related Articles

One Comment

  1. मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की जनजातियों की जातियों के बारे में कोई उल्लेख नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close