G.K

बिहार की जनसंख्या – Bihar GK Hindi

बिहार में जनगणना

  • वर्ष 2011 की जनगणना बिहार की 15वीं जनगणना थी.
  • भारत में जनगणना कार्य सर्वप्रथम 1835 ईसवी में किया गया था किंतु या जनगणना सीमित संदर्भ में की गई थी.
  • अपने देश में नियमित नगर नाका आरंभ 18 से 81 ईसवी से हुआ. उस समय बिहार की जनसंख्या 2.6 करोड़ रिकॉर्ड की गई थी.
  • उसके लगभग 10 वर्ष बाद  सन 1891 में की गई जनगणना के अनुसार बिहार की जनसंख्या बढ़कर 2.87 करोड़ हो गई.
  • 2001-11 दशक के दौरान बिहार की जनसंख्या 2 करोड़ बढ़ी है.
  • 2001-11 में भारत की जनसंख्या में वृद्धि का राष्ट्रीय ओसत 17.7 प्रतिशत था, जबकि बिहार में वृद्धि की दर से कहीं अधिक (25.4%) थी.

जनगणना 2011 के अनुसार बिहार

  • जनसंख्या की दृष्टि से बिहार उत्तर प्रदेश एवं महाराष्ट्र के बाद भारत का तीसरा सबसे बड़ा राज्य है, जहाँ देश की कुल आबादी का 8.60% भाग निवास करता है..
  • जनसंख्या घनत्व की दृष्टि से बिहार का भारत के राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों में (सम्मिलित रूप से) छोटा किंतु केवल राज्यों में पहला स्थान है.

बिहार की कुल जनसंख्या

बिहार की कुल जनसंख्या बिहार की ग्रामीण जनसंख्या
कुल व्यक्ति 104099452 कुल व्यक्ति 92341436
पुरुष 542178257 पुरुष 48073850
क्षत्रिय 49821295 क्षत्रिय 44267586

 

बिहार की नगरीय जनसंख्या बिहार में कुल परिवार
कुल व्यक्ति 11758016 योग 18913565
पुरुष 62043 07 ग्रामीण 16862940
 क्षत्रिय 5553709 नगर यह 2050625

जनसंख्या वितरण

  • राज्य में सर्वाधिक जनसंख्या वाला जिला पटना है. दूसरे एवं तीसरे स्थान पर क्रमशः पूर्वी चंपारण एवं मुजफ्फरपुर जिले में है.
  • राज्य का सबसे कम जनसंख्या वाला जिला शेखपुरा है, इसके बाद कम जनसंख्या वाले जिले शिवहर एवं अरवल क्रमशः दूसरे व तीसरे स्थान पर आते हैं.
  • राज्य में सर्वाधिक जनसंख्या उपजाऊ मैदानी भागों में पाई जाती है, वहीं तराई क्षेत्र एवं झारखंड के पठारी क्षेत्र से सटे जिलों में  कम जनसंख्या पाई जाती है.
  • राज्य का उत्तरी गिरि पाद प्रदेश तथा झारखंड से सटे दक्षिणी क्षेत्र मैदानी क्षेत्रों की अपेक्षा रियल है. इस क्षेत्र के अंतर्गत अररिया, पूर्णिया, सहरसा, कटिहार, वैशाली, पश्चिमी चंपारण, कैमूर, रोहतास जिले आते हैं. झाड़ियों तथा अलग पठारी क्षेत्र होने के कारण कृषि कार्य समुचित तरीके से नहीं हो पाता है.
सर्वाधिक जनसंख्या वाले पांच जिले न्यूनतम जनसंख्या वाले पांच जिले
पटना 5838465 शेखपुरा 636342
पूर्वी चंपारण 5099473  शिवहर 656246
 मुजफ्फरपुर 4801062 अरवल 700843
गया 4391418 लखीसराय 1000912
मधुबनी 4487379 जहानाबाद 1125313
  • बिहार में 2011 जनगणना के समय 38 जिले, 534 सा. वि. प्रखंड और 199 शहर है, जिनमें 139 सर्वाधिक शहर एवं 60 जनगणना शहर शामिल है.
  • राज्य में अभी रात को गांव की संख्या 44874 है, जो 2001 की जनगणना को 45098 से 224 कम है.
  • 2011 जनगणना के अनुसार राज्य की कुल जनसंख्या104099452 है जिसमें 54278157 पुरुष एवं  49821295 स्त्रियाँ है.
  • चूँकि राज्य की कुल जनसंख्या का 28.7% आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करती है, तथा 11.3% राज्य के नगरीय क्षेत्र में रहती है इसलिए राज्य में ग्रामीण आबादी का बाहुल्य है.

अनुसूचित जाति जनसंख्या

  • 2011 जनगणना के अनुसार राज्य की कुल जनसंख्या का 15.9% अनुसूचित जाति की जनसंख्या ( 16567325) जो 2001 जनगणना में दर्ज 15.7% से थोड़ा अधिक है.
  • अनुसूचित जातियों की कुल जनसंख्या ( 2011 जनगणना के अनुसार) 8606253 पुरुष और 79610772 स्त्रियाँ है तथा एक 15344215 ग्रामीणों और 1223110 नगरीय जनसंख्या है.
  • जिलों के अंतर्गत अनुसूचित जाति की 30.39% जनसंख्या के साथ गया जिला का सर्वोच्च स्थान है, जबकि किशनगंज में अनुसूचित जाति का सबसे कम प्रतिशत 6.69 प्रतिशत  है.

अनुसूचित जनजाति जनसंख्या

  • अनुसूचित जनजातियों की कुल जनसंख्या ( जनगणना 2011 के अनुसार) 1336573 में, 682516 पुरुष और 654057 स्त्रियाँ है तथा इनकी कुल जनसंख्या में से 1270851 ग्रामीण 62722 नगरीय जनसंख्या है.
  • जनगणना 2011 के अनुसार राज्य में कुल जनसंख्या का 1.3% अनुसूचित जनजाति है जबकि 2001 जनगणना में यह 0.9% था.
  • जिलों के अंतर्गत पश्चिम चंपारण में अनुसूचित जनजाति की जनसंख्या सर्वाधिक 6.35%  है जबकि खगड़िया, समस्तीपुर और औरंगाबाद जिलों में सबसे कम 0.04% दर्ज किया गया है.

दशकीय वृद्धि

  • 10 वर्षों के अंतराल में राज्य की जनसंख्या में 2,11,00943 की वृद्धि हो जाने के परिणाम स्वरुप 2001- 2011 के दौरान 25.4% की वृद्धि दर्ज की गई है.
  • यदि 1991- 2001 के प्रति दर्शकों में दर्ज 28.6% की तुलना की जाए तो राज्य में 2001- 2011 के दौरान 10 की वृद्धि में कमी स्पष्ट परिलक्षित होती है.
  • 2001-2011 में दर्द 17.7 प्रतिशत अखिल भारतीय दर से बिहार की वृद्धि दर अधिक है.

जनसंख्या घनत्व

  • 2011 जनगणना के अनुसार राज्य की जनसंख्या का घनत्व 1,106 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है, जबकि 2001 में यह घंटों 881 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर था. तात्पर्य है कि 2011 में प्रति वर्ग किलोमीटर में 225 व्यक्तियों की वृद्धि हुई है.
  • 1880 व्यक्ति प्रति किलोमीटर के साथ है सबसे घनी आबादी वाला जिला शिवहर है. उसके बाद पटना (1823) दरभंगा (1728) का स्थान आता है, जबकि कैमूर जिला में 488 व्यक्ति प्रति किलोमीटर के कारण सबसे कम घनी आबादी वाला जिला है.

लिंगानुपात

  • 2011 जनगणना में संपूर्ण बिहार का लिंगानुपात 1000 पुरुषों पर 918 स्त्रियां है, जबकि 2001 जनगणना में यह 919 था.
  • इस प्रकार 2001 जनगणना से 2011 जनगणना में एक अंक की कमी हुई है.
  • 2011 जनगणना में जिलों के अंतर्गत गोपालगंज का लिंगानुपात सर्वाधिक 1021 और मुंगेर का सबसे कम 876 है.
  • राज्य स्तर पर अनुसूचित जाति जनसंख्या का लिंग अनुपात 925 है, जो 2001 जनगणना में दर्ज 930 की तुलना में अधिक है.
  • 2011 जनगणना के दौरान जिलों के अंतर्गत अनुसूचित जाति जनसंख्या के लिंगानुपात सर्वाधिक 1010 गोपालगंज जिला का था तथा सबसे कम 878 भागलपुर जिला का है.
  • 2011 जनगणना में राज्य स्तर पर अनुसूचित जनजाति का  लिंगानुपात 958 है, जबकि 2001 जनगणना में यह अनुपात 929 दर्ज किया गया था.
  • 2011 जनगणना में जिलों के अंतर्गत अनुसूचित जनजाति के लिंगानुपात 1085 के अरवल जिला शीर्ष पर है और 97 के सात शिवहर जिला सबसे निचले पायदान पर है.

शिशु लिंगानुपात (0-6 वर्ष आयु वर्ग)

  • 2011 जनगणना के अनुसार कुल जनसंख्या का शिशु लिंगानुपात 935 है, जो 2011 में दर्ज राष्ट्रीय औसत 919 की तुलना में अत्यंत ही सराहनीय है. फिर भी राज्य में 2001 जनगणना में दर्द और 942 की तुलना में कम हुआ है.
  • जिला बार विचार करने पर 2011 जनगणना में किशनगंज जिला का सर्वाधिक संपूर्ण शिशु लिंगानुपात  971 है, जबकि वैशाली जिला में 904 दर्ज किया गया है.

0-6 आयु समूह में शिशु जनसंख्या का प्रतिशत है

  • 2001 जनगणना में दर्द कुल जनसंख्या के 20.2% शिशु जनसंख्या के विरुद्ध 2011 में 0 – 6 आयु समूह की शिशु जनसंख्या कुल जनसंख्या का 18.38 प्रतिशत है.
  • अनुसूचित जाति की जनसंख्या 1991 एवं 2001 दोनों जनगणना में 22.5% है. किंतु, अनुसूचित जनजातियों के लिए यह 2001 जनगणना में 20.5% है, जबकि 1991 में यह 21.0 प्रतिशत.था.
  •  2011 जनगणना में बिहार में सर्वाधिक शिशु जनसंख्या 1018297  वाला जिला किशनगंज सबसे कम शिशु जनसंख्या 121647 मुंगेर का है.

साक्षरता दर

  • 2011 जनगणना के अनुसार भारत की साक्षरता दर 73.0% है, जबकि 2001 जनगणना में साक्षरता दर 64.8% थी. इससे 2001 जनगणना की अपेक्षा 2011 जनगणना में देश की साक्षरता दर में 8.2% की वृद्धि परिलक्षित होती है.
  • साक्षरता के मामले में 2011 जनगणना के अनुसार बिहार 61.8% साक्षरता दर के सबसे कम साक्षर राज्य है, जबकि 2001 जनगणना में साक्षरता दर 47.0  प्रतिशत की गई है.
  •  2001 एवं 2011 जनगणना में साक्षरता दर की दृष्टि से देश के राज्य एवं संघ राज्य क्षेत्रों में बिहार राज्य लगातार अंतिम स्थान पर बरकरार है.

कार्य भागीदारी दर

  • 2001 जनगणना में 33.7% कार्य भागीदारी की तुलना में 2011 जनगणना के दौरान कुल जनसंख्या में कार्य भागीदारी दर  33.35% है.
  • दीर्घकालिक कर्मी – की कुल जनसंख्या  21359611 में एक बेहतर 1,72,70,690 पुरुष और 4,08,8921 स्त्रियाँ है तथा कुल दीर्घकालिक कर्मियों में18723966 ग्रामीण और 2635645 नगरिया है.
  • दीर्घकालिक कर्मीयों के अंतर्गत काशतकारों की संख्या 9537418 परिवारिक उद्योगकर्मी 779576 और अन्य कर्मियों की संख्या 5,62,9436 है.
  • अल्पकालिक कर्मी- की कुल जनसंख्या 1,33,65,376 में 79,51,499 पुरुष है. और 5,4,13,870 स्त्रियाँ  है. तथा कुल अल्पकालिक कर्मियों में 1,26,35,801 ग्रामीण और 7,29,575 नगरीय है.
  • अल्पकालिक कर्मी के अंतर्गत कुल काश्तकारों की संख्या  17,83,045 खेतिहर मजदूरों की 88,08,231 परिवारिक उद्योगकर्मी की 6,31,632  और अन्य कर्मी की संख्या 21,42,468 शामिल है.

बिहार की जनसंख्या जिला एवं अनुमंडल

जिला मुख्यालय अनुमंडल
पटना पटना पटना सदर, पटना सिटी, दान, पालीगंज,  मसौढ़ी, बाढ़
नालंदा बिहार बिहार, राजगीर हिलसा
रोहतास सासाराम सासाराम, विक्रमगंज, डीहरी
भोजपुर आरा आरा सदर, पीरो, जगदीशपुर
कैमूर भभुआ भभुआ, मोहनिया
बक्सर बक्सर बक्सर, डुमराव
गया गया गया सदर, नीमचक बथानी, शेरघाटी, टेकारी
जहानाबाद जहानाबाद जहानाबाद
औरंगाबाद औरंगाबाद औरंगाबाद, दाऊद नगर
नवादा नवादा नवादा, रंजोली
मुजफ्फरपुर मुजफ्फरपुर मुजफ्फरपुर पश्चिम, मुजफ्फरपुर
सीतामढ़ी सीतामढ़ी सीतामढ़ी सदर, पुपरी,
वैशाली हाजीपुर हाजीपुर, महनार, महुआ
पूर्वी चंपारण मोतीहरि मोतिहारी सदर, अरेराज, रक्सौल, पकड़ी दयाल
पश्चिम चंपारण बेतिया बेतिया, बगहा, नरकटियागंज
शिवहर शिवहर शिवहर
सारण छपरा छपरा, मंडोर, सोनपुर
शिवान सिवान सिवान, महाराजगंज
गोपालगंज गोपालगंज  गोपालगंज,हथुआ
दरभंगा दरभंगा दरभंगा सदर, बेनीपुर,  बिरौल
मधुबनी मधुबनी मधुबनी, जयनगर, झंझारपुर, फुलपरास
समस्तीपुर समस्तीपुर दलसिंहसराय, पटोरी, रासोड़, समस्तीपुर
बेगूसराय बेगूसराय बकरी, बलिया, बेगूसराय, मंझौल, तेघड़ा
खगड़िया खगड़िया खगड़िया, गोगरी
मुंगेर मुंगेर हवेली खड़कपुर, खड़गपुर मुंगेर, तारापुर
शेखपुरा शेखपुरा शेखपुरा
जुमई जुमई दुबई
लखीसराय लखीसराय लखीसराय
मधेपुरा मधेपुरा मधेपुरा, उदाकिशनगंज
सहरसा सहरसा सहरसा सदर, सिमरी बख्तियारपुर
सुपौल सुपौल सुपौल, वीरपुर, निर्मल, त्रिवेणीगंज
पूर्णिया पूर्णिया बनमनखी, धमदाहा, पूर्णिया, वायसी
किशनगंज किशनगंज किशनगंज
अररिया अररिया अररिया, फारबिसगंज
कटिहार कटिहार कटिहार सदर, बारसोई, मनीहरि
भागलपुर भागलपुर भागलपुर, कहलगांव, नवगछिया
बांका बांका बांका
अरवल अरवल अरवल

बिहार जनसंख्या वृद्धि

1921 में बिहार की जनसंख्या 2.73 करोड़ थी. 1951 में बिहार की जनसंख्या 3.87 करोड़ थी, जो बढ़कर 2001 में 8.29 करोड तथा 2011 में 10.40 करोड हो गई.

बिहार की जनसंख्या वृद्धि की प्रवृत्ति

  • बिहार में 2011 की जनसंख्या 2011 की तुलना में 25.4% अधिक है जो कि अखिल भारतीय जनसंख्या वृद्धि 17.7% से 7.7% अधिक है.
  • बिहार में 1901 से 1921 तक धीमी रफ्तार से जनसंख्या वृद्धि हुई. इस समय बिहार में उच्च जन्म दर और उच्च मृत्यु पाया जाता है, जिसके कारण जनसंख्या वृद्धि धीमी थी. स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव के कारण उच्च मृत्यु दर की स्थिति बनी हुई थी. इस समय अनेक क्रमांक बीमारियां फैली हुई थी: जैसे- हैजा, प्लेग, आदि. बाढ़ एवं सूखे जैसे प्राकृतिक प्रकोप के कारण भी मृत्यु दर में वृद्धि हुई है.
  • 1911 से 1921 के मध्य जनसंख्या वृद्धि ऋण आत्मक हुई.
  • 1921 से 1951 तक बिहार में जनसंख्या वृद्धि दर एवं मध्यम रही.
  • आर्थिक विकास नहीं होने के कारण जनसंख्या का उत्तरोत्तर वृद्धि में कमी आई.
  • 1951 से 2011 तक बिहार की जनसंख्या की तीव्र गति से वृद्धि हुई. इस विधि का प्रमुख कारण मृत्यु दर में कमी है  जबकि दर में कोई विशेष कमी नहीं है.
  • बिहार में जन्म दर  27.7 प्रति हजार है तो मृत्यु दर 6.7%  प्रति हजार है.

प्रतिशत दशकीय वृद्धि  2001-2011

जिला प्रतिशत दशकीय वृद्धि दर है
मधेपुर 31.12
किशनगढ़ 30.40
अररिया 30.25
खगड़िया 30.19
पूर्वी चंपारण 29,43
पश्चिम चंपारण 29 .29
सुपौल 28.66
वैशाली 28.57
कटिहार 28.35
पूर्णिया 28.30
मुजफ्फरपुर 28.14
सीतामढ़ी 27.62
शिवहर 27.19
बांका 26.48.
बेगूसराय 26.44
गया 26.43.
औरंगाबाद 26. 18
कैमूर 26. 17
सहरसा 26. 02
जमुई 25. 85
समस्तीपुर 25. 53
मधुबनी. 25. 51
भागलपुर 25. 36
लखीसराय. 24. 77
पटना 23.73
सिवान 22. 70
नवादा 22. 63
बक्सर 21. 67
सारण 21. 64
भोजपुर 21. 63
नालंदा 21. 39
शेखपुरा 21. 09
रोहतास 20. 78
मुंगेर 20. 21
दरभंगा 19. 47
गोपालगंज 19, 02
जहानाबाद

जनसंख्या घनत्व के अनुसार जिलों का क्रम  2011

जिला जनसंख्या जिला जनसंख्या
शिवहर 1880 मधेपुरा 1120
पटना 1823 दरभंगा 1728
वैशाली 1717 कटिहार 1005
बेगूसराय 1549 पूर्णिया 1011
मुजफ्फरपुर 1514 बक्सर 1002
शिवान 1501 अररिया  993
सारण 1496 मुंगेर 964
सीतामढ़ी 14 शेखपुरा 924
समस्तीपुर 1467 सुपौल 919
पूर्वी चंपारण 1285 नवादा 890
मधुबनी 1282 गया 883
गोपालगंज 1260 किशनगंज 898
नालंदा 1222 लखीसराय 815
जहानाबाद 1209 औरंगाबाद 768
भागलपुर 1182 रोहतास 763
भोजपुर 1139 पश्चिम चंपारण 753
सहरसा 1127 बांका 674
खगड़िया 1122 जमुई 568
कैमूर 488

ग्रामीण एवं नगरीय जनसंख्या

  • 2011 की जनगणना के अनुसार बिहार में 92341436 व्यक्ति ग्रामीण अधिवासों में और 11758016 व्यक्ति नगरीय अधिवासों में निवास करते हैं.
  • राज्य की 88.7% जनसंख्या गांव में और शेष 11.3%  जनसंख्या नगरों में रहती है.
  • राज्य में सबसे बड़ा नगरीय जनसंख्या वाला जिला पटना है, जहां 2514590 व्यक्ति नगरीय क्षेत्रों में निवास करते हैं. इस क्रम में भागलपुर दूसरे स्थान पर और गया जिला तीसरे स्थान पर है, जा नगरीय जनसंख्या क्रमश: 602532  और 581601 है.
  • बिहार में सबसे कम नगरीय जनसंख्या वाला जिला शिवहर है, जहां मात्र 28116 व्यक्ति ही नगरिया दीवारों में निवास करते हैं.
  • 2011 की जनगणना के अनुसार बिहार में 26 नगर ऐसे हैं जिनकी जनसंख्या एक लाख से अधिक है.

एक लाख से अधिक जनसंख्या वाले नगर  2011

नगर जिला  जनसंख्या
पटना पटना 168320
गया गया 463454
भागलपुर भागलपुर 398138
मुजफ्फरपुर मुजफ्फरपुर 351838
दरभंगा दरभंगा 294116
बिहार शरीफ नालंदा 296889
आरा भोजपुर 261099
छपरा सारण 201597
मुंगेर मुंगेर 213101
कटिहार कटिहार 225982
पूर्णिया पूर्णिया 280547
सासाराम रोहतास 147396
सहरसा सहरसा 155175
हाजीपुर वैशाली 147126
डेहरी रोहतास 137068
बेतिया पश्चिम चंपारण 132896
मोतिहारी पूर्वी चंपारण 125183
सिवान सिवान 134458
बेगूसराय बेगूसराय 251136

लिंगानुपात के अनुसार जिले 2001- 2011

जिला लिंग अनुपात 2011 2001
गोपालगंज 1021 1001
सिवान 988 1031
सारण 954 966
किशनगंज 950 936
नावदा 939 946
गया 937 938
 शेखपुरा 930 918
 सुपौल 929 920
अरवल 928
मधुबनी 926 942
 औरंगाबाद 926 934
नालंदा 922 914
जम्मूई 922 918
बक्सर 922 899
जहानाबाद 922 929
पूर्णिया 921 915
अररिया 921 913
कैमूर 920 902
कटिहार 919 919
जिला लिंगानुपात 2011 2001
रोहतास 918 909
समस्तीपुर 911 928
दरभंगा 911 914
मधेपुरा 911 915
पश्चिम चंपारण 909 901
 भोजपुर 907 902
बांका 907 908
सहरसा 906 910
पूर्वी चंपारण 902 896
लखीसराय 902 921
मुजफ्फरपुर 900 920
सीतामढ़ी 899 8
पटना 897 873
वैशाली 895 920
बेगूसराय 895 912
शिवहर 893 885
खगड़िया 886 885
भागलपुर 880 876
मुंगेर 876 872

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close