EcomonyStudy Material

राष्ट्रीय आय क्या है और इससे जुड़े कुछ सवाल

किसी देश के नागरिकों का सकल घरेलू एवं विदेशी आउटपुट सकल राष्ट्रीय आय कहलाता है। आज इस आर्टिकल में हम आपको राष्ट्रीय आय क्या है और इससे जुड़े कुछ सवाल के बारे में बताने जा रहे है जिसकी मदद से आप अपने एग्जाम की तैयारी कर सकते है.

राष्ट्रीय आय क्या है और इससे जुड़े कुछ सवाल

किसी देश की उत्पादन व्यवस्था से अंतिम उपभोक्ता के हाथों में जाने वाली वस्तुओं या देश के पूँजीगत साधनों के विशुद्ध जोड़ को ही राष्ट्रीय आय कहते हैं।

राष्ट्रीय आय क्या है और इससे जुड़े कुछ सवाल
राष्ट्रीय आय क्या है और इससे जुड़े कुछ सवाल

Q. एक राष्ट्र के सामान्य निवासियों को किसी विशेष अवधि में उनकी उत्पादक के सेवाओं के फल स्वरुप प्राप्त होने वाली कुल साधन आय अथार्त: लगान मजदूरी व्यय और लाभ को किस की संज्ञा दी जाती है?

Ans. राष्ट्रीय आय

Q. सकल राष्ट्रीय उत्पाद और मूल्यवान या स्थाई संपत्तियों के उपभोग व्यय का अंतर क्या कहलाता है?

Ans. विशुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद एनएनपी

Q. यदि इस प्रकार प्राप्त जीएनपी में से मशीनों की गिरावट हुई अथवा प्रतिस्थापन वह घटा दिया जाए तो जो शेष बचता है उसे क्या कहते हैं?

Ans. बाजार कीमत पर शुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद

Q. प्रति व्यक्ति आय की गणना का सूत्र क्या है?

Ans. राष्ट्र आय/ जनसंख्या

Q. किसी देश के व्यक्ति एवं परिवारों को एक लेखा वर्ष में सभी स्त्रोतों से वास्तव में प्राप्त साधन आय तथा वर्तमान हस्तांतरण भुगतान का योग क्या कहलाता है?

Ans. व्यक्ति का आय

Q. निजी आय तथा व्यक्तिगत आय में मुख्य अंतर क्या है?

Ans. निजी आय में निगमों की बचत तथा निगम कर सम्मिलित किए जाते हैं जबकि व्यक्तिक हाय मैं नहीं

Q. वह आए क्या कहलाती है जो परिवारों को सभी स्रोतों से प्राप्त होती है तथा उनके पास सरकार द्वारा उनकी आय तथा संपत्तियों पर लगाए गए सभी प्रकार के करों का भुगतान करने के बाद बचती है?

Ans. प्रयोज्य आय

Q. राष्ट्रीय आय की गणना सामान्यता किन मूल्यों पर की जाती है?

Ans. चालू तथा सत्य

Q. 1949 में भारत सरकार ने किसकी अध्यक्षता में एक राष्ट्रीय आय समिति की नियुक्ति थी?

Ans. फ्री पी सी महालनोबिस

Q. भारत में राष्ट्रीय आय की गणना के लिए सबसे पहले वैज्ञानिक विधि प्रयोग में लाने का श्रेय किसे दिया जाता है?

Ans. 9 वी के आर वी राव

Q. राष्ट्रीय आय समिति की रिपोर्ट के आधार पर की केंद्रीय सांख्यिकी गणित की स्थापना कब की गई थी?

Ans. 1954

Q. विश्व विकास रिपोर्ट के अनुसार भारत की प्रति व्यक्ति आय कितनी है?

Ans. 1080 डॉलर व्यक्ति

Q. भारत की राष्ट्रीय आय और प्रति व्यक्ति आय की गणना का प्रथम प्रयास कब और किसने किया था?

Ans. 1867-68 में दादाभाई नौरोजी ने

Q. राष्ट्रीय आय की गणना कितने शत्रुओं पर की जाती है?

Ans. 3 (आय स्तर, उत्पादन स्तर और व्य्य स्तर)

Q. माल और सेवाओं की शुद्ध मूल्य वृद्धि का आंकलन किस पद्धति द्वारा किया जाता है?

Ans. उत्पाद पद्धति द्वारा

Q. मूल्य वर्धित पद्धति किस नाम से जानी जाती है?

Ans. उत्पाद पद्धति

Q. उत्पाद के घटकों के लिए किए गए भुगतान लोक आयोग किस पद्धति द्वारा किया जाता है?

Ans. आय पद्धति द्वारा

Q. राष्ट्रीय आय के आकलन के लिए उत्तरदाई कौन है?

Ans. केंद्रीय सांख्यिकी संगठन

मूर्तिकला, चित्रकला, संगीत और नृत्य – भारतीय इतिहास

Q. भारत में निर्धनता के स्तर का आकलन कैसे किया जाता है?

Ans. परिवार के उपभोग व्यय के आधार पर

Q. किस देश की आर्थिक विकास दर का सर्वश्रेष्ठ सूचक क्या है?

Ans. प्रति व्यक्ति आय

Q. आय की सामाजिक लेखांकन जनगणना करने की विधि का विकास किसने किया था

Ans. रिचर्ड सटोन ने

Q. प्रति व्यक्ति आय ज्ञात करने के लिए कुल आय को किस से भाग देते हैं

Ans. देश कि गुलशन जनसंख्या से

Q. हिंदू वृद्धि दर किससे संबंधित है

Ans. जीडीपी से

Q. भारत की राष्ट्रीय आय का प्रमुख स्त्रोत क्या है

Ans. सेवा क्षेत्र

Q. भारत के राष्ट्रीय आय समंको का आकलन किसके द्वारा किया जाता है

Ans. केंद्रीय सांख्यिकी संगठन द्वारा

Q. उपभोक्ता की बचत का सिद्धांत किसने दिया था?

Ans. अल्फ्रेड मार्शल ने

Q. राष्ट्रीय आय की सामाजिक लेखांकन गन्ना की खोज किसने की थी?

Ans. रिचर्ड स्टोन ने

Q. आय में बदलाव के फलस्वरुप उपजाऊ में बदलाव क्या कहलाता है?

Ans. उपभोग की सीमांत प्रवृत्ति

Q. महालनोबिस समिति का संबंध किससे है?

Ans. राष्ट्रीय आय से

Q. वर्तमान में भारतीय राष्ट्रीय आय में सर्वाधिक योगदान किसका है?

Ans. सेवाओं का

आज इस आर्टिकल में हमने आपको राष्ट्रीय आय क्या है और इससे जुड़े कुछ सवाल, राष्ट्रीय आय के घटक, राष्ट्रीय आय को कहा जाता है, भारत की राष्ट्रीय आय कितनी है, राष्ट्रीय आय का मापन, के बारे में बताया है.

अगर आपको इससे जुडी कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close