G.KHistoryStudy Material

बक्सर का युद्ध का इतिहास

आज इस आर्टिकल में हम आपको बक्सर का युद्ध का इतिहास के बारे में बताने जा रहे है.

More Important Article

बक्सर का युद्ध

अंग्रेजों ने मीर कासिम के स्वच्छंद आचरण को देख कर उसे नवाब पद से हटाने का निर्णय किया. मीर कासिम भागकर पहले पटना आया और फिर लखनऊ जाकर नवाब शुजाउदौला से सहायता मांगी. उन दिनों मुगल सम्राट शाह आलम द्वितीय भी अवध में ही उपस्थित था.

मीर कासिम ने अवध के नवाब शुजाउदौला एवं मुगल सम्राट शाह अलम द्वितीय के साथ मिलकर अंग्रेजों के खिलाफ एक गुट का निर्माण कर अंग्रेजों के विरुद्ध युद्ध किया. परंतु 22 अक्टूबर 1764 ई. में सर हेक्टर मुनरो नेतृत्व में अंग्रेजों की सेना ने उन्हें पराजित कर दिया.

बक्सर युद्ध के पश्चात बिहार प्रशासन मिर्जा मोहम्मद कासिम खान के द्वारा बिहार के डिप्टी गवर्नर धीरज नारायण (राजा रामनायारण का भाई) के सहयोग से चलाया जा रहा था.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close