भारत के प्रमुख झील, नदी, जलप्रपात और मिट्टी के बारे में जानकारी

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इस आर्टिकल में हम आपको भारत के प्रमुख झील, नदी, जलप्रपात और मिट्टी के बारे में जानकारी देने जा रहे है.

भारत के झील एवं संबंधित राज्य

झील संबंधित राज्य झील संबंधित राज्य
डल जम्मू – कश्मीर नागिन जम्मू – कश्मीर
गूलर जम्मू – कश्मीर शेषनाग जम्मू – कश्मीर
बेरीनाग जम्मू – कश्मीर अनंतनाग जम्मू एंड कश्मीर
मानसबल  जम्मू – कश्मीर जयसमंद राजस्थान
राजसमंद राजस्थान फतेह सागर राजस्थान
पिछौला राजस्थान डीडवाना राजस्थान
सातताल उत्तराखंड नौकुचियाताल उत्तराखंड
राकसताल उत्तराखंड खुरपाताल उत्तराखंड
हुसैन सागर आंध्र प्रदेश कोलेरू आंध्र प्रदेश
पुलिकट तमिलनाडू चिल्का उड़ीसा
लोकटक मणिपुर लोनार महाराष्ट्र

भारत के प्रमुख जलप्रपात

जलप्रपातस्थिति
जोग या गारसोप्पा शार्वती नदी ( कर्नाटक)
शिवसमुद्रम कावेरी नदी ( कर्नाटक)
गोकाक गोकक नदी ( कर्नाटक)
हुंडरू जलप्रपात
स्वर्णरेखा नदी ( झारखंड)
येना जलप्रपात नर्मदा  नदी ( गुजरात)
धुआंधार जलप्रपात नर्मदा ( जबलपुर)
 येन्ना जलप्रपात नर्मदा नदी ( महाराष्ट्र)

प्रमुख मिट्टी में तत्वों की मात्रा

मिट्टी तत्वों की बहुलता
जलोढ़ मिट्टी पोटाश
काली मिट्टी आयरन, एलुमिनियम, मैग्नीशियम
लाल मिट्टी सील्लीका, आयरन

बहुउद्देशीय नदी-घाटी परियोजनाएं

परियोजना नदी राज्य
भाखरा नांगल सतलज नदी पंजाब
इंदिरा गांधी सतलज – व्यास पंजाब
हीराकुंड बांध महानदी उड़ीसा
तुगभद्रा तुगभद्रा नदी आंध्र प्रदेश
नागार्जुन सागर कृष्णा नदी आंध्र प्रदेश
फरक्का   भागीरथी नदी पश्चिम बंग
उकाई ताप्ती नदी गुजरात
रिहंद रिहंद नदी उत्तर प्रदेश
इडुक्की पेरियार नदी केरल
टिहरी बांध भागीरथ नदी उत्तर
कोयना कोयना नदी महाराष्ट्र
सलमान चिनाब नदी कश्मीर
स्वर्णरेखा स्वर्णरेखा नदी झारखंड
शिवसमुद्रम कावेरी नदी कर्नाटक
मैटूर बांध कावेरी नदी तमिलनाडु
दामोदर घाटी दामोदर नदी झारखंड
सरदार सरोवर नर्मदा नदी मध्य प्रदेश
दुल हस्ती चिनाब नदी कश्मीर
अलमाटी बांध कृष्णा नदी कर्नाटक
तूलबुल जेलम जम्मू – कश्मीर
थीन बांध रावी नदी पंजाब
पोग बांध व्यास हिमाचल

 


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2 thoughts on “भारत के प्रमुख झील, नदी, जलप्रपात और मिट्टी के बारे में जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *