G.K

हिमाचल प्रदेश की रियासतें, प्राचीन दुर्ग और किले

बिलासपुर

बुंदेलखंड के राजकुमार वीरचंद ने सतलज नदी की वादियों में स्थानीय ठाकुरों को हराकर 900 ई. में बिलासपुर (केहलूर) राज्य की स्थापना की।

किन्नौर

किन्नौर राज्य रामपुर रियासत (बुशहर) का एक भाग था। यहां के प्रसिद्ध शासक थे प्रतपाल, प्रद्युमन, चतर सिंह एवं केहरी सिंह, जिसे आजनबाहु नाम से जाना जाता था।

कांगड़ा

यह हिमाचल प्रदेश की रियासत थी।  इतिहास में त्रिगर्त नाम से विख्यात है। वर्तमान में यह नगरकोट नाम से जानी जाती है।

कुल्लू

कुल्लू का पुराना नाम कुल्लूट था। यहां के निवासी उदुबरा थे। उच्च व्यासघाटी में स्थित कुल्लू की स्थापना बेहंगमनी ने की थी जो प्रयाग से आया था।

चंबा

चंबा का वास्तविक नाम चंपा था। सातवीं शताब्दी में मारु और वर्मन ने इसकी स्थापना की थी। वर्तमान चम्बा की स्थापना साहिल वर्मन ने 920-940 के बीच अपनी पुत्री चंपावती के नाम पर की थी। रावी नदी के दाईं ओर स्थित यह हिमाचल प्रदेश का सबसे सुंदर जिला है।

ऊना

वर्तमान ऊना जिला कांगड़ा और होशियारपुर की सीमा पर स्थित कूटलहर रियासत का हिस्सा था।  इसकी स्थापना दसवीं व ग्यारह वीं शताब्दी के मध्य जसपाल ने की थी।

मंडी

1527 ई. में बाहुसेन के उत्तराधिकारी अजगर सेन ने मंडी रियासत की स्थापना की थी।

शिमला

18वीं शताब्दी के प्रारंभिक दौर में आज का शिमलानगर क्योंथल रियासत का एक भाग था क्योंथल रियासत की स्थापना 1211 ई. में गिरी सेन ने की थी।

लाहौल स्पीति

लाहौल स्पीति भारत के उत्तरी पश्चिमी हिस्से में स्थित है। लाहौल के निवासी मंगोलियन जाति के हैं। 1961 तक लाहौल स्पीति पंजाब राज्य में जिला कांगड़ा का एक हिस्सा था।

सिरमौर

सिरमौर का संस्थापक राजा रसालू था। इसका प्राचीन नाम सुलोकिना था। इतिहासकारों के अनुसार यहां के निवासी कुलिंद थे। आधुनिक काल के कनेत ही प्राचीनकाल में कुलिंद के नाम से जाने जाते थे।

हमीरपुर

18वीं शताब्दी में हमीरपुर की स्थापना हमीरचंद कटोच ने की थी। यह कांगड़ा रियासत का एक हिस्सा था।

सोलन

15 अप्रैल 1948 को महासू जिले की दो तहसीलें अर्की भागल, कुनिहार और मांगल  रियासतों को मिलाकर तथा सोलन भागत बेजा व ठाकुर रियासतों को मिलाकर बनाई गई सोलन जिले में, नालागढ़, भागत, कुनिहार, माँगल, बेजा, तथा कुठार आदि रियासते शामिल है।

हिमाचल प्रदेश के प्राचीन दुर्ग/किले

  1. कांगड़ा का किला- इस किले का निर्माण कांगड़ा के द्वितीय राजा सुशर्म चंद ने कराया था। जो महाभारत में कौरव पक्ष की ओर से लड़ा था।
  2. तारागढ़ दुर्ग- इसका निर्माण नूरपुर के राजा जगत सिंह द्वारा कराया गया था। यह वर्तमान में चंबा जिले में स्थित है।
  3. कमलातृगढ़ का किला- इस किले का निर्माण राजा सूरज सेन ने 1637-1664 ई. में कराया था।
  4. जैतक का किला- यह किला सिरमौर जिले में नाहन के पास स्थित है। यह किला राजगढ़ के किले के नाम से जाना जाता है।

हिमाचल प्रदेश राज्य/रियासते व उनके संस्थापक

राज्य\ रियासत राज्यों के संस्थापक वर्ष राज्य/रियासत राज्यों के संस्थापक वर्ष
त्रिगर्त  राज्य सुशर्मा 13वीं सदी चंबा रियासत मारुवर्मन 550 ई.
जसवां पूर्वचंद
1170ई.
डाडा सिवा रियासत सिवर्णचंद 1550 ई.
सिब्बा राज्य शिव रामचंद्र 1450 ई. सुजानपुर घमंडचंद्र
सुकेत राज्य वीर सेन 765 ई. सारी राज्य मूलचंद
गुलेर राज्य हरिचंद 1405 ई. महलोग रियासत वीरचंद
आधुनिक कुल्लू राज्य रत्ना भदरा मंडी रियासत बाहुसेन
नूरपुर राज्य जेतपाल नामक तोमर राजपूत 1000 ई. भागत रियासत अजय देव
नालागढ़ व्यास अजयचंद 1000 ई. बालसन रियासत अशोक सिंह 12 वीं सदी
भज्जी रियासत चारु राजा कुम्हार सेन रियासत किरतचंद 11 वीं सदी
कहलुर रियासत वीरचंद चंदेल 900 ई. जुब्बल रियासत करमचंद
दरकोटी रियासत दुर्गा सिंह देलथ  रियासत पृथ्वी सिंह
सिरमौर राज्य शुंभश प्रकाश 1195 ई. प्राचीन कुल्लू राज्य विहंगम मणिपाल 1500 ई.
कुठार रियासत सूरतचंद कुनिहार रियासत अभोजदयों 1154 ई.
ठियोग रियासत जयचंद 1667 ई. कियोंथल राज्य गिरि सेन
765 ई.

अन्य प्रमुख जिले

  • हिमाचल प्रदेश में शाहपुर का किला, गुलेर, चंद्रभान, मस्तगढ़,  कोटला, गंधर्व, राधोपुर, भानगढ़, नरेरीगढ आदि
  • मंडी के प्रसिद्ध दुर्गों में सुराज, मानगढ़, माधोगढ़, और आनंतपुर के नाम उल्लेखनीय है।
  • राज्य के किन्नौर जिले में श्यामल खरगढ़ और कमरू का किला प्रसिद्ध ऐतिहासिक महत्व के स्थल है। सिरीगढ, बैरकोट, राधोपुर मदनकोट, एवं बजौरा के किले कुल्लू के प्रसिद्ध किले हैं। इनमें बजौरा के किले को बाद में संग्रहालय का रूप दे दिया गया था। इसके अतिरिक्त नालागढ़, जैतकगढ़, आदि किले सोलन जिले में अवस्थित है।
  • शिमला जिले के प्रसिद्ध किलो में समरकोट, राबीगढ़ बाधी के समीप कौर, रामपुर के पास रेंणगढ़, शिकारी, सराहन, नवगढ़ आदि किलो के नाम प्रमुख है।

हिमाचल प्रदेश की रियासत

  • भघाट
  • भाजी
  • भागल
  • बेजार
  • बाल्सन
  • बुशहर
  • चम्बा
  • दरकोटी
  • देलोय
  • डामी
  • धामी
  • घुंड
  • जुब्बल
  • खनेटी
  • कोटी
  • कुम्हारसेन
  • कुनिहार
  • कुठार
  • मंडी
  • मधान
  • महलोग
  • मांगल
  • रितेश
  • रविनगढ
  • सांगरी
  • सिरमौर
  • सुकेत
  • भरोच
  • ठियोग

More Important Article

Recent Posts

अपने डॉक्यूमेंट किससे Attest करवाए – List of Gazetted Officer

आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे की अपने डॉक्यूमेंट किससे Attest करवाए - List…

3 weeks ago

CGPSC SSE 09 Feb 2020 Paper – 2 Solved Question Paper

निर्देश : (प्र. 1-3) नीचे दिए गये प्रश्नों में, दो कथन S1 व S2 तथा…

7 months ago

CGPSC SSE 09 Feb 2020 Solved Question Paper

1. रतनपुर के कलचुरिशासक पृथ्वी देव प्रथम के सम्बन्ध में निम्नलिखित में से कौन सा…

8 months ago

Haryana Group D Important Question Hindi

आज इस आर्टिकल में हम आपको Haryana Group D Important Question Hindi के बारे में…

8 months ago

HSSC Group D Allocation List – HSSC Group D Result Posting List

अगर आपका selection HSSC group D में हुआ है और आपको कौन सा पद और…

8 months ago

HSSC Group D Syllabus & Exam Pattern – Haryana Group D

आज इस आर्टिकल में हम आपको HSSC Group D Syllabus & Exam Pattern - Haryana…

8 months ago