G.K

उत्तराखंड में परिवहन संचार माध्यम

आज इस आर्टिकल में हम आपको उत्तराखंड में परिवहन संचार माध्यम के बारे में बताने जा रहे है जिसकी मदद से आप उत्तराखंड के परिवहन के बारे में जानकारी ले सकते है.

उत्तराखंड में परिवहन संचार माध्यम


सड़क परिवहन

उत्तराखंड की भूमि उबड़-खाबड़ एवं पर्वतीय होने के कारण यहां यातायात की व्यवस्था असुविधाजनक एवं महंगी है, जिससे राजमर्रा की उपयोगी सामानों की कीमत में 20% से 50% तक वृद्धि रहती है। यातायात के प्रमुख साधनों मे मुख्य बस सेवा है, यहां पर उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश आदि की बसें चलती है। यहां हरिद्वार, देहरादून, काठगोदाम, लालकुआं तथा हल्द्वानी में रेलवे स्टेशन है। देहरादून राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 45 द्वारा देश के प्रमुख भागों से जुड़ा हुआ है। वर्तमान में राष्ट्रीय राजमार्गों की कुल संख्या 14 है। वर्तमान में कुमाऊँ मंडल की अपेक्षा गढ़वाल मंडल में सड़कों की संख्या एवं लंबाई अधिक है।

लोक निर्माण विभाग द्वारा संधारित सड़कों की लंबाई (2016-17)

राष्ट्रीय उच्च मार्ग की कुल लंबाई 2,135.34  किलोमीटर
राजकीय उच्च मार्ग की कुल लंबाई 4,316.58 किलोमीटर
प्रमुख जिला सड़कों की कुल लंबाई 2,147.56 किलोमीटर
अन्य जिला की कुल लंबाई 2,813.08 किलोमीटर
ग्रामीण सड़कों की कुल लंबाई 20,993.69 किलोमीटर
न्यूनतम भारित वाहन सड़कों की कुल लंबाई 681.78 किलोमीटर
कुल योग 30,274.95 किलोमीटर

राष्ट्रीय राजमार्ग

राष्ट्रीय मार्ग संख्या नाम लंबाई किलोमीटर में
58 गाजियाबाद-  मेरठ- हरिद्वार- ऋषिकेश-  बद्रीनाथ- माणा 376.20
72 अंबाला- नाहन-  देहरादून- ऋषिकेश 93.20
73 रुड़की- सहारनपुर- यमुनानगर- पंचकूला 22
74 हरिद्वार- नजीबाबाद- काशीपुर-किच्छा-  बरेली 162
87 रामपुर- रुद्रपुर- हल्द्वानी- नैनीताल 79
84 ऋषिकेश- टिहरी- धरासू- फूलचट्टी-  यमुनोत्री 217.53
72 क छुटमलपुर- देहरादून 8
108 धरासू- उत्तरकाशी- गंगोत्री 124
109  रुद्रपुर-  गौरीकुंड 76
123 विकासनगर- कालसी- यमुनापुल-  नैनीबाग- डामटा- नौगांव- कालसी 130
119 मेरठ- मवाना- बिजनौर- कीरतपुर- कोटद्वार- दुगड्डा- गुमखाल- पौड़ी -श्रीनगर 135
121 काशीपुर- रामनगर- धुमाकोट-  बैजरो- त्रिपोलीसैण- मुसाग- ली – पाबौ- बुवाखाल- पौड़ी 233
87 ज्योलीकोट- भवाली-गरम पानी- अल्मोड़ा- रानीखेत- द्वाराहाट (विस्तार)- चौखुटिया- आदि बदरी- कर्णप्रयाग 252
125 सितारागंज- खटीमा-बनवास – टनकपुर- चलथी- चंपावत- लोहाघाट 201

रेल यातायात

राज्य के कुछ ही मैदानी भाग रेल मार्ग से जुड़े हैं। इनमें कोटद्वार, रायवाला, हरिद्वार, देहरादून, रुड़की, रामपुर, काशीपुर, लालकुआं, हल्द्वानी,  काठगोदाम, ऋषिकेश टनकपुर नगर, प्रमुख है। उत्तराखंड में वर्ष 2012-2013 में कुल 41 रेलवे स्टेशन है। 31 मार्च 2017 तक उत्तराखंड में रेलवे लाइनों की कुल लंबाई 340 किलोमीटर है। सर्वाधिक रेल ट्रैक वाला जिला हरिद्वार तथा सबसे कम रेल ट्रैक वाला जिला पौड़ी गढ़वाल है,

हवाई यातायात

राज्य में हवाई यातायात अत्यंत सीमित है। जौलीग्रांट से एबी- 320/ बोइंग- 737- 800 विमानों की नियमित विमान सेवा, पंतनगर को कार एयरपोर्ट के रूप में विकसित करना, गौचर में हैलीकॉप्टर सर्विस हेतु हैंगर निर्माण, नैनीसेनी एयरपोर्ट, का एटीआर -72 टाइप विमानों के परिचालन हेतु प्रत्येक जनपद में हैलीपैड निर्माण की व्यवस्था की जा रही है। हरिद्वार में एवियेशन अकादमी, अगस्त्यमुनि तथा फाटा से नियमित हैलीकॉप्टर सेवा आदि की व्यवस्था का विस्तार किया गया है।

प्रमुख हवाई अड्डे

  • पंतनगर- ऊधमसिंह नगर
  • नैनीसैनी- पिथौरागढ़
  • चिन्यालीसौड़- उत्तरकाशी
  • जौलीग्रांट- देहरादून
  • गोचर- चमोली

उत्तराखंड के प्रमुख नगर व केंद्रीय संस्थान

  • उत्तराखंड की अधिकांश आबादी नदियों की निचली घाटियों में केंद्रित है।  शिवालिक, दून, तथा हिमालय की तलहटी में स्थित संघन वनाच्छादित प्रदेशों में विरल जनसंख्या पाई जाती है। हिमाच्छादित भाग प्राय जनविहीन है। यहां पर नगरीकरण में धार्मिक व प्रशासनिक कार्यों का विशेष महत्व है। यहां 5 प्रकार के नगर मिलते हैं।
  • अवकुटो पर मसूरी,  रानीखेत, चकरात, पौड़ी लैंसडाउन, अल्मोड़ा आदि।
  • नदी वेदिकाओं पर उत्तरकाशी, श्रीनगर, कीर्तिनगर
  • नदियों के संगम पर टिहरी, देवप्रयाग, रुद्रप्रयाग, कर्णप्रयाग तथा विष्णुप्रयाग आदि है।
  • घाटियों में देहरादून तथा नैनीताल।
  • द्वारानगर- हरिद्वार, ऋषिकेश, कालसी, कोटद्वार, काठगोदाम व टनकपुर आदि। उत्तराखंड में देहरादून में सर्वाधिक विकसित है, औद्योगिक, शैक्षिक व प्रशासनिक नगर है।

अन्य तथ्य

  • NH -109 राष्ट्रीय राजमार्ग केदारनाथ धाम पर समाप्त होता है।
  • NH-58 राष्ट्रीय राजमार्ग उत्तराखंड को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से जोड़ता है।
  • राज्य का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग NH – 72A  है।
  • यमुनोत्री NH -94  राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित है।
  • बद्रीनाथ मंदिर NH -58  राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित है।
  • गंगोत्री NH – 108 राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित है।

More Important Article

Recent Posts

अपने डॉक्यूमेंट किससे Attest करवाए – List of Gazetted Officer

आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे की अपने डॉक्यूमेंट किससे Attest करवाए - List…

4 weeks ago

CGPSC SSE 09 Feb 2020 Paper – 2 Solved Question Paper

निर्देश : (प्र. 1-3) नीचे दिए गये प्रश्नों में, दो कथन S1 व S2 तथा…

7 months ago

CGPSC SSE 09 Feb 2020 Solved Question Paper

1. रतनपुर के कलचुरिशासक पृथ्वी देव प्रथम के सम्बन्ध में निम्नलिखित में से कौन सा…

8 months ago

Haryana Group D Important Question Hindi

आज इस आर्टिकल में हम आपको Haryana Group D Important Question Hindi के बारे में…

8 months ago

HSSC Group D Allocation List – HSSC Group D Result Posting List

अगर आपका selection HSSC group D में हुआ है और आपको कौन सा पद और…

8 months ago

HSSC Group D Syllabus & Exam Pattern – Haryana Group D

आज इस आर्टिकल में हम आपको HSSC Group D Syllabus & Exam Pattern - Haryana…

8 months ago