G.K

भाषा शिक्षण की विधियाँ एवं भाषा के उपागम

आज इस आर्टिकल में हम आपको भाषा शिक्षण की विधियाँ एवं भाषा के उपागम के बारे में जानकारी देने जा रहे है-

भाषा शिक्षण की विधियाँ एवं भाषा के उपागम

Q.  उद्देश्य का सीधा संबंध किससे है ?

(A) शिक्षण
(B) शिक्षा
(C) शिक्षक
(D) पाठ

Q.  आनंद की प्राप्ति हिंदी शिक्षण के उद्देश्य के किस पक्ष को उजागर करती है ?

(A) ज्ञान पक्ष
(B) कौशल पक्ष
(C) साहित्यिक पक्ष
(D) उपयुक्त सभी

Q.  प्राथमिक स्तर पर कविता शिक्षण की सर्वाधिक उपयुक्त प्रणाली कौन सी है ?

(A) व्याख्या प्रणाली
(B) तुलना प्रणाली
(C) गीत और अभिनय प्रणाली
(D) व्यास प्रणाली

Q.  निम्नलिखित में से प्राथमिक स्तर पर व्याकरण शिक्षण की सर्वाधिक उपयुक्त विधि है –

(A) निगमन विधि
(B) आगमन विधि
(C) सूत्र विधि
(D) पुस्तक विधि

Q.  अविभक्त इकाई शिक्षण में विद्यार्थियों के जिस शिक्षण पर बल दिया जाता है –

(A) सामूहिक शिक्षण
(B) व्यक्तिगत शिक्षण
(C) दल शिक्षण
(D) कक्षा शिक्षण

Q.  आगमन विधि में किस शिक्षण सूत्र का समावेश नहीं होता है ?

(A) सरल से कठिन की ओर
(B) ज्ञात से अज्ञात की ओर
(C) क्रिया द्वारा सीखना
(D) सामान्य से विशेष की ओर

Q.  बालक के भाषा सीखने में महत्वपूर्ण योगदान होता है ?

(A) लेखन का
(B) वाचन का
(C) पठन का
(D) अनुकरण का

Q.  लिखित भाषा को देख कर बोलना कहलाता है –

(A) पठन
(B) वाचन
(C) अर्थ ग्रहण
(D) अनुकरण

Q.  नाटक शिक्षण का उद्देश्य नहीं है –

(A) बालकों को रंगमंचीय नायक बनाना |
(B) बालकों को भावानुकूल वाचन की शिक्षा देना |
(C) संवाद एवं अभिनय कला से छात्रों को अवगत कराना |
(D) समायोजित व्यवहार और नैतिक शिक्षा देना |

Q.  हिंदी शिक्षण में डॉल्टन  पद्धति का प्रयोग करने पर –

(A) विद्यार्थी स्वप्रेरणा से कार्य करते है |
(B) मौखिक भाषा का विकास होता है |
(C) स्वतंत्रता पूर्वक कार्य नहीं कर पाते हैं |
(D) प्रयोगशाला की जरूरत नहीं होती है |

Q.  किस शिक्षण विधि में कल्पना शक्ति का विकास करने वाले मनोरंजक खेलों को स्थान दिया  गया है –

(A) प्रोजेक्ट पद्धति
(B) मोंटेसरी पद्धति
(C) बालोद्यान पद्धति
(D) डाल्टन पद्धति

Q.  उच्च प्राथमिक स्तर पर कविता शिक्षण की प्रणाली है –

(A) अभिनय
(B) गीत
(C) प्रश्नोत्तर
(D) व्याख्या

Q.  कविता या पद्य शिक्षण का अंतिम उद्देश्य होता है –

(A) ज्ञानात्मक
(B) कौशलात्मक
(C) तथ्यात्मक
(D) सौंदर्यात्मक 

Q.  व्याकरण शिक्षण की प्राचीन एवं परंपरागत शिक्षण विधि है –

(A) निगमन विधि
(B) आगमन विधि
(C) भाषा संसर्ग विधि
(D) प्रयोग प्रणाली

Q.  कहानी शिक्षण का उद्देश्य है –

(A) छात्रों को भाषा शैली, मुहावरों से अवगत कराना
(B) छात्रों को जीवन के प्रति यथार्थता एवं स्वाभाविकता का ज्ञान कराना
(C) छात्रों में भावात्मक तथा चारित्रिक गुणों को विकसित करना
(D) उपर्युक्त सभी

Q.  निम्नलिखित में से दृश्य – श्रव्य उपकरण है –

(A) रेडियो
(B) टेलीफोन
(C) दूरदर्शन
(D) ग्रामोफोन

Q.  भाषा शिक्षण में सहायक सामग्री के प्रयोग का लक्ष्य है –

(A) शिक्षक के ज्ञान में स्पष्टता लाना
(B) पाठ्यवस्तु में स्पष्टता लाना
(C) बालकों के भावों को जाग्रत करना
(D) भाषा शिक्षण में योगदान करना

Q.  कविता शिक्षण का प्रमुख उद्देश्य है –

(A) शब्दार्थ बोध
(B) भावानुभावन
(C)  गायन – दक्षता
(D) मनोरंजन

Q.  गद्य शिक्षण का प्रमुख उद्देश्य होता है –

(A) ज्ञानात्मक
(B) रागात्मक
(C) कौशलात्मक
(D) उपर्युक्त सभी

Q.  माध्यमिक स्तर पर नाटक शिक्षण की सर्वप्रमुख विधि है –

(A) आदर्श अभिनय विधि
(B) कक्षा अभिनय विधि
(C) व्याख्यान विधि
(D) उपर्युक्त सभी

Q.  व्याकरण की किस विधि में व्यावहारिक पक्ष पर विशेष बल दिया जाता है –

(A) पाठ्य पुस्तक प्रणाली
(B) आगमन – निगमन प्रणाली
(C) समवाय प्रणाली
(D) भाषा – संसर्ग प्रणाली

Q.  किस विधि में पहले उदाहरण प्रस्तुत किए जाते है ?

(A) आगमन विधि
(B) निगमन विधि
(C) समवाय विधि
(D) प्रश्नोत्तर विधि

Q.  कहानी – शिक्षण का प्रमुख उद्देश्य है –

(A) बालकों का मनोरंजन करना
(B) समय के सदुपयोग की शिक्षा देना
(C) रसानुभूति की क्षमता का विकास करना
(D) विषय वस्तु का ज्ञान प्राप्त करना

Q.  पूर्वश्रुत ध्वनियों के प्रतीक लिपिबद्ध शब्दों को पढ़कर अर्थ ग्रहण करने की प्रक्रिया कहलाती है –

(A) अधिसूचना
(B) वाचन
(C) कथन
(D) पत्र लेखन

Q.  अध्यापक द्वारा कक्षा में किए गए वैयक्तिक वाचन को कहते हैं –

(A) अनुकरण वाचन
(B) सामूहिक वाचन
(C) आदर्श वाचन
(D) सस्वर वाच

Q.  कविता शिक्षण के अंत में सस्वर पाठ के सोपान का उद्देश्य है –

(A) काव्यमय वातावरण में पाठ का समापन
(B) काव्य पाठ का अभ्यास करवाना
(C) कविता के भावों से अवगत करवाना
(D) काव्य के प्रति रुचि उत्पन्न करना

Q.  ‘देखो व कहो’ तथा ‘वाक्य शिक्षण’ विधि का अन्य रूप है –

(A) प्रश्नोत्तर विधि
(B) साहचर्य विधि
(C) वाक्य रचना विधि
(D) कहानी विधि

Q.  काव्य शिक्षण में किसका महत्व अधिक है ?

(A) सस्वर वाचन
(B) विचार संश्लेषण विधि
(C) आदर्श पठन
(D) मौन पठन

Q.  जिस पद्धति में बालक स्वयंअपना सुधार करता है, वह है –

(A) प्रश्नोत्तर विधि
(B) अनुकरण विधि
(C) जेकॉटाट विधि
(D) किंडर गार्टन  विधि

Q.  भाषा शिक्षण का मूल उद्देश्य है –

(A) प्रभावोत्पादक और रमणीय ढंग से बोल व लिख सकें |
(B) पुस्तक को ठीक से पढ़ और समझ सके |
(C) संबंधित विषय के नियम व सूत्र सीख सकें |
(D) सुवाचन, सुवाणी व सुलेखन कर सकें |

Q.  बालक की अभिव्यक्ति का पूरा विकास होता है –

(A) जब वह भाषा को पढ़ता और सुनता है
(B) जब वह भाषा को लिखता और पढ़ता है
(C) जब वह भाषा को बोलता और लिखता है
(D) जब वह भाषा को सुनता और लिखता है

आकलन, मापन एवं मूल्यांकन का अर्थ एवं उद्देश्य

Q.  भाषा शिक्षण के मूल कौशलों के अधिगम की दृष्टि से इनमें से सर्वोच्च प्राथमिकता दी जानी चाहिए ?

(A) शुद्ध उच्चारण के ज्ञान को
(B) शुद्ध वर्तनी के अभ्यास को
(C) मौखिक अभिव्यक्ति को
(D) सुंदर लेखन को

Q.  गृह कार्य का प्रमुख उद्देश्य क्या है –

(A) छात्रों में स्वाध्याय की प्रवृत्ति का विकास करना
(B) विषय वस्तु को लिखित रूप में प्रस्तुत करना
(C) कक्षा के अधूरे कार्य को पूरा करना
(D) पाठ्यक्रम को पूरा करना

Q.  लेखन गति सुधारने के लिए आप कैसा गृह कार्य देना चाहेंगे ?

(A) पठितअंश से कॉपी में एक पृष्ठ लिखना
(B) अपनी इच्छा से एक पृष्ठ लिखना
(C) घर पर श्रुतलेख लिखना
(D) अशुद्धियों को पाँच – पाँच  बार लिखना |

Q.  चित्रों को देखकर घटनाक्रम तथा आशय बताना किस योग्यता को स्पष्ट करता है –

(A) सुनने की योग्यता
(B) बोलने की योग्यता
(C) पठन की योग्यता
(D) वाचन की योग्यता

Q.  जब किसी परीक्षा के बार-बार अंकन करने पर भी कोई अंतर नहीं आता, उसका कारण है –

(A) वैधता
(B) व्यापकता
(C) वस्तुनिष्ठता
(D) विश्वसनीयता

Q.  नैदानिक तथा उपचारात्मक शिक्षक की प्रक्रिया कब तक चलती रहनी चाहिए ?

(A) जब तक छात्र चाहे
(B) जब तक अध्यापक चाहे
(C) जब तक विद्यालय में समय मिले
(D) जब तक छात्रों का पिछड़ापन दूर न हो

Q.  मूल्यांकन एवं परीक्षा में अंतर है –

(A) पाठ्यक्रम की दृष्टि से
(B) व्यापकता की दृष्टि से
(C) अंकन की दृष्टि से
(D) औपचारिकता की दृष्टि से

Q.  बालक के भाषा सीखने में महत्वपूर्ण योगदान होता है –

(A) लेखन का
(B) वाचन का
(C) पठन का
(D) अनुकरण का

Q.  लिखित भाषा को देख कर बोलना कहलाता है –

(A) पठन
(B) वाचन
(C) अर्थ ग्रहण
(D) अनुकरण

Q.  प्रारंभिक स्तर पर वाचन शिक्षण हेतु उपयुक्त विधि है –

(A) सस्वर वाचन
(B) समवेत वाचन
(C)  मौन वाचन
(D) संशोधन वाचन

Q.  छात्रों द्वारा सामूहिक रूप से किया जाने वाला सस्वर वाचन कहलाता है –

(A) अनुकरण वाचन
(B) समवेत वाचन
(C) समूह वाचन
(D) मौन समूह

Q.  भाषा सीखने के मूल कौशलों का सही क्रम है –

(A) लिखना, पढ़ना, सुनना, बोलना |
(B) बोलना, लिखना, सुनना, पढ़ना |
(C) सुनना, बोलना, पढ़ना, लिखना |
(D) सुनना, बोलना, लिखना, पढ़ना |

Q.  छात्रों को श्रुतलेख देने का क्या लाभ है ?

(A) वर्तनी संबंधी त्रुटियाँ न करना
(B) गति के साथ सुंदर लिखना
(C) सुनकर अर्थ ग्रहण करना
(D) उपर्युक्त सभी 

Q.  उपचारात्म्क शिक्षण का उद्देश्य है –

(A) छात्रों की प्रगति का ज्ञान प्राप्त करना
(B) छात्रों की पिछड़ापन दूर करना 
(C) छात्रों की त्रुटियाँ का पता लगाना
(D) विषय के प्रति रुचि उत्पन्न करना

Q.  मूल्यांकन का क्षेत्र परीक्षा से –

(A) विस्तृत है 
(B) संकुचित है
(C) ये दोनों ही
(D) कोई नहीं

Q.  मूल्यांकन होता है –

(A) उद्देश्याधारित
(B) निरुद्देश्य
(C) प्रयोजन मूलक
(D) A व C दोनों ही 

Q.  मूल्यांकन है –

(A) सतत चलने वाली क्रिया
(B) निश्चित समय में चालित क्रिया
(C) ये दोनों ही
(D) कोई नहीं

Q.  मूल्यांकन जरूरी है –

(A) शिक्षा गत उद्देश्यों की पूर्ति हेतु
(B) बालकों की बौद्धिक संवेगात्मक विकास हेतु
(C) ये दोनों ही
(D) कोई नहीं

Q.  मूल्यांकन की नवीन विचारधारा आधारित है –

(A) तीन स्तम्भों पर
(B) चार स्तम्भों पर
(C) पाँच स्तम्भों पर
(D) कोई नहीं

Q.  मूल्यांकन के अंतर्गत इतने प्रकार की वैधता जरूरी है –

(A) दो
(B) तीन 
(C) चार
(D) पाँच

Q.  उपचारात्मक शिक्षण है –

(A)  कमी का पता लगाकर दूर करना
(B) बौद्धिक स्तर पर आगे रहने वाले छात्रों को पढ़ाना
(C) ये  दोनों ही
(D) कोई नहीं

Q.  समग्र मूल्यांकन से आशय है –

(A) छात्र के सर्वाधिक विकास को ध्यान में रखकर किया गया मूल्यांकन
(B) एक निश्चित अवधि में किया गया पूर्ण मूल्यांकन
(C) ये  दोनों ही
(D) कोई नहीं

Q.  उपचारात्मक शिक्षण उन कमियों को दूर करता है –

(A) जो शैक्षणिक विकास में बाधक है
(B) जो शारीरिक विकास में बाधक है
(C) जो सामाजिक विकास में बाधक है
(D) ये  सभी

Q.  सतत मूल्यांकन है –

(A) निरंतर चलने वाली क्रिया
(B) समय-समय पर चलने वाली क्रिया
(C) व्यक्ति विशेष में परिवर्तन लाने हेतु चलाने वाली क्रिया
(D) कोई नहीं

आज इस आर्टिकल में हमने आपको भाषा शिक्षण की विधियाँ एवं भाषा के उपागम के बारे में बताया इसको लेकर आपका कोई सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है-भाषा शिक्षण की विधियाँ एवं भाषा के उपागम

Share
Published by
Ishant Panghal

Recent Posts

अपने डॉक्यूमेंट किससे Attest करवाए – List of Gazetted Officer

आज इस आर्टिकल में हम आपको बताएँगे की अपने डॉक्यूमेंट किससे Attest करवाए - List…

3 weeks ago

CGPSC SSE 09 Feb 2020 Paper – 2 Solved Question Paper

निर्देश : (प्र. 1-3) नीचे दिए गये प्रश्नों में, दो कथन S1 व S2 तथा…

6 months ago

CGPSC SSE 09 Feb 2020 Solved Question Paper

1. रतनपुर के कलचुरिशासक पृथ्वी देव प्रथम के सम्बन्ध में निम्नलिखित में से कौन सा…

7 months ago

Haryana Group D Important Question Hindi

आज इस आर्टिकल में हम आपको Haryana Group D Important Question Hindi के बारे में…

7 months ago

HSSC Group D Allocation List – HSSC Group D Result Posting List

अगर आपका selection HSSC group D में हुआ है और आपको कौन सा पद और…

7 months ago

HSSC Group D Syllabus & Exam Pattern – Haryana Group D

आज इस आर्टिकल में हम आपको HSSC Group D Syllabus & Exam Pattern - Haryana…

7 months ago