G.KGeographyStudy Material

बिहार में उद्योग धंधे

बिहार में उद्योग धंधे, bihar mein udhyog dhandhe, bihar ke udhyog ke naam, bihar mein kitne kaarkhane hai, bihar ke kaarkhano ke naam

More Important Article

बिहार में उद्योग धंधे

  • राज्य के मुख्य उद्योग में मुजफ्फरपुर और मोकामा में भारत वैगन लिमिटेड का रेलवे वैगन प्लांट तथा बरौनी में भारतीय तेल निगम का तेल शोधक कारखाना काफी लाभदायक है.
  • बरौनी का एच.पी.सी.एल और अमझोर का पाईराइट्स फास्फेट एंड केमिकल्स लिमिटेड राज्य के प्रमुख उर्वरक संयंत्र हैं.
  • सिवान, भागलपुर, पंडोल, मोकामा और गया में पांच बड़ी कताई मिले हैं.
  • उत्तर व दक्षिण बिहार में 13 चीनी मिलें निजी क्षेत्र की तथा 15 चीनी मिलें सार्वजनिक क्षेत्र की है, जिनकी कुल पेराई क्षमता 45,000 टन प्रतिदिन टी.पी.डी है.
  • गोपालगंज, पश्चिमी चंपारण, भागलपुर और रीगा (सीतामढ़ी जिला) में शराब बनाने के कारखाने हैं.
  • पश्चिमी चंपारण, मुजफ्फरपुर और बरौनी में चमड़ा प्रसंस्करण के उद्योग है.
  • कटिहार और समस्तीपुर में तीन बड़े पटसन के कारखाने हैं.
  • हाजीपुर में दवाइयां बनाने का कारखाना है जबकि औरंगाबाद और पटना में खाद्य प्रसंस्करण और वनस्पति बनाने के कारखाने हैं.
  • बंजारी के कल्याणपुर सीमेंट लिमिटेड नामक सीमेंट कारखाने का बिहार के औद्योगिक नक्शे में महत्वपूर्ण स्थान है.

बिहार के प्रमुख उद्योग एवं उनकी स्थिति

प्रमुख उद्योग/कारखाने स्थान
भारत वैगन  एंड इंजीनियरिंग कंपनी लिमिटेड मौकामा
सिगरेट फैक्ट्री एवं बंदूक कारखाना मूंगेर
जूता कारखाना (बाटा इंडिया लिमिटेड) मोकामा
चमड़ा उद्योग मोकामा, दीघा, गया
थर्मल पावर स्टेशन (कोयला आधारित) बरौनी
बिहार स्टेट स्कूटर्स लिमिटेड फतुहा (पटना)
लौह उद्योग गया, पुरानी
खनन उद्योग औरंगाबाद
शराब उद्योग मानपुर, मूंगेर, पटना, पंचरुखी, मंडोर
तंबाकू उद्योग दिलावरपुर (मुंगेर), गया, आरा, बिहार शरीफ, बक्सर एवं लखीसराय
कांच उद्योग पटना
रेशम उद्योग
तसर रेशम भागलपुर
कच्चा रेशम कटिहार, पूर्णिया, मनोहरपुर
बटन मेहसी
सिंदूर लखीसराय
बीड़ी झाझा, बिहार शरीफ, जमुई
रेल इंजन मरम्मत जमालपुर
रेल पहिया बेलापुर, छपरा

बिहार के प्रमुख उद्योग एवं संबंधित स्थान

उद्योग स्थान
चीनी उद्योग मोतिहारी, सुगौली, मझौलिया, चनपटिया, बिहटा, गया, नरकटियागंज,मंडोर, पंचरुखी,सासामुसा, गोपालगंज, हथुआ, मोतीपुर, सहारा, पूर्वी शाहाबाद, हसनपुर, हरिनगर,, डालमियानगर, बन्ना, वारसलीगंज एवं मीरगंज
सूती वस्त्र उद्योग गया, फुलवारीशरीफ, डुमराव. मोकामा. पटना. मुंगेर. भागलपुर. मधुबनी एवं मुजफ्फरपुर
सीमेंट उद्योग डालमियानगर, बंजारी
कागज एवम लुगदी उद्योग समस्तीपुर, दरभंगा, पटना, बरौनी, एवं डालमियानगर
प्लाईवुड उद्योग हाजीपुर
जूट उद्योग कटिहार, समस्तीपुर,  चंपारण, दरभंगा और सहरसा
दियासलाई उद्योग कटिहार
कंबल उद्योग गया, पूर्णिया,  औरंगाबाद एवं मोतिहारी
हथकरघा उद्योग मधुबनी,  भागलपुर, बिहार शरीफ, गया, पटना एवं मुंगेर
बर्तन उद्योग सिवान एवं बिहटा

बिहार में केंद्र सरकार के सार्वजनिक प्रबंध के भारी उद्योग

भारत वैगन एंड इंजीनियरिंग कंपनी लिमिटेड

भारत सरकार ने रेल के वैगन और दूसरे इंजीनियरिंग सामान बनाने के लिए इस कारखाने को मोकामा में स्थापित किया है.

बरौनी तेल शोधक कारखाना

यह बेगूसराय जिला के बरौनी में स्थित है और इसकी स्थापना सन 1964 में तत्कालीन सोवियत संघ की सहायता से की गई है. सन 1983 में इस कारखाने की पेट्रोलियम शोधन क्षमता 33 लाख टन थी. वर्तमान में यह कारखाना भारतीय तेल निगम के अधीन आता है और यहां के पेट्रोलियम की आपूर्ति असम के तेल क्षेत्रों से की जाती है.

बिहार में सार्वजनिक प्रबंधन में राज्य सरकार के अधीन उद्योग-

बिहार स्टेट स्कूटर्स लिमिटेड

फतुहा में स्थापित कारखाने का मुख्यालय पटना में है. इसकी अधिकांश शेयर बिहार सरकार के पास है.

बिहार स्टेट इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड

इसका मुख्यालय पटना में है. इसके अंतर्गत भागलपुर के स्पिन सिल्क फैक्ट्री, विक्रमगंज की चावल मिले, इलेक्ट्रिकल इंस्ट्रूमेंट फैक्ट्री है.

बिहार स्टेट हैंडलूम, पावरलूम, हैंडीक्राफ्ट्स डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड

बिहार में हथकरघा, पावरलूम, और दस्तकारी सामानों का उत्पादन और वितरण के लिए बिहार सरकार ने निगम की स्थापना की है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close