G.KStudy Material

छत्तीसगढ़ में पंचायती राज की कार्यप्रणाली

ग्राम पंचायत के कार्य

  • कृषि संबंधी कार्य
  • ग्राम विकास अधिकारी
  • प्राथमिक विद्यालय, उच्च प्राथमिक विद्यालय व अनौपचारिक शिक्षा के कार्य
  • युवा कल्याण संबंधी कार्य
  • राजकीय नलकूपों की मरम्मत और रखरखाव
  • हैंडपंपों की मरम्मत एवं रखरखाव
  • चिकित्सा एवं स्वास्थ्य संबंधी कार्य
  • महिला  एवं बाल विकास संबंधी कार्य
  • पशुधन विकास संबंधी कार्य
  • समस्त प्रकार के पेंशन को स्वीकृत करने व वितरण करने का कार्य
  • समस्त प्रकार की छात्रवृत्ति ओं को स्वीकृति करने का वितरण का कार्य
  • राशन की दुकान का आवंटन वह निस्त्रीकरण
  • पंचायती राजसमंद दी ग्रामीण क्षेत्रीय कार्य।

ग्राम पंचायत का बजट

  • प्रत्येक ग्राम पंचायत एक निश्चित समय में 1 अप्रैल से प्रारंभ होने वाले वर्ष के लिए ग्राम पंचायत की अनुमानित आमदनी और खर्चे का हिसाब किताब तैयार करना है।
  • हिसाब किताब पंचायत की बैठक में उपस्थित होकर वोट देने वाले सदस्यों के आधे से अधिक वोटों से प्राप्त किया जाएगा।
  • बजट पास करने के लिए बुलाई गई ग्राम पंचायत की बैठक कोरम कुल संख्या का आधा होगा।

ग्राम पंचायतों की समितियां

समिति गठन कार्य
नियोजन एवं विकास समिति सभापति प्रधान, अन्य सदस्य अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, महिला एवं पिछड़े वर्ग 11 से अनिवार्य ग्राम पंचायत की योजना का निर्माण करना, कृषि, पशुपालन एवं गरीबी उन्मूलन कार्यक्रमों का संचालन करना।
निर्माण कार्य समिति सभापति ग्राम द्वारा नामित सदस्य 6 अन्य सदस्य (आरक्षण उपयोग की भांति) समस्त निर्माण कार्य करना तथा गुणवता निश्चित करना।
शिक्षा समिति सभापति उप प्रधान 6  अन्य सदस्य, आरक्षण प्रयुक्त की भांति, प्रधानाध्यापक संयोजित,  अभीवाहक आयोजित प्राथमिक शिक्षा, उच्च शिक्षा, अनौपचारिक शिक्षा तथा स्वच्छता  आदि संबंधी कार्य।
प्रशासनिक समिति सभापति प्रधान, 6  अन्य सदस्य (आरक्षण उपर्युक्त की भांति) कमियों\खामियां संबंधी प्रत्येक कार्य।
स्वास्थ्य एवं कल्याण समिति सभापति ग्राम पंचायत द्वारा नामित सदस्य,6  अन्य सदस्य (आरक्षण पूर्ववत) चिकित्सा स्वास्थ्य, परिवार कल्याण संबंधी कार्य और समाज कल्याण योजनाओं का संचालन, अनुसूचित जाति\ जनजाति तथा पिछड़े वर्ग की उन्नति एवं संरक्षण।
जल प्रबंधन समिति सभापति ग्राम पंचायत द्वारा नामित, 6  अन्य सदस्य (आरक्षण उपर्युक्त की भांति) प्रत्येक राज्य के नलकूप के कमांड एरिया में उपभोक्ता से आयोजित। राजकीय नलकूपों का संचालन  पेयजल संबंधी कार्य।

ग्राम पंचायत के आय के स्रोत 

  • भू राजस्व की धनराशि के अनुसार 25% से 50% तक पंचायत कर
  • प्रांतीय सरकार अथवा स्थानीय अधिकारियों द्वारा अनुदान
  • मनोरंजन कर
  • गांव के मेले, बाजारों आदी पर कर
  • पशुओं तथा वाहनों आदि पर कर
  • मछली तलाब से प्राप्त आय।
  • नालियों सड़कों की सफाई तथा रोशनी के लिए कर
  • कूड़ा करकट तथा मृत पशुओं की बिक्री से आय
  • चूल्हा कर
  •  व्यापार तथा रोजगार कर
  • संपत्ति के क्रय की विक्रय पर कर
  • पशुओं की रजिस्ट्रेशन फीस
  • दुग्ध उत्पादन कर

ग्राम पंचायत के कर्मचारी

  • पंचायत सचिव – पंचायत के सहायतार्थ नियुक्त किया जाता है।
  • ग्राम  सेवाक (ग्राम विकास अधिकारी) विकास परमार्थ दाता तथा नीतियों को लागू करने में सहायक है।
  • चौकीदार – न्याय तथा शांति व्यवस्था के लिए पंचायत का सहायक।

More Important Article

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close