ScienceStudy Material

कोयला और पेट्रोलियम से प्रश्नोत्तरी


Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 340

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/functions/media-functions.php on line 114

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 340

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/functions/media-functions.php on line 114
Contents show

प्राकृतिक संसाधन क्या है?

जीवन के लिए उपयोगी पदार्थ है, जो प्रकृति में उपलब्ध हो, उन्हें प्राकृतिक संसाधन कहते हैं। इन पदार्थों की आपूर्ति व उपलब्धता के लिए मनुष्य प्रकृति पर निर्भर करता है। पृथ्वी, वायु, सौर ऊर्जा, खनिज, जल, जंतु व पौधे प्राकृतिक संसाधन है।

प्राकृतिक संसाधनों का वर्गीकरण करें?

प्राकृतिक संसाधन दो प्रकार के होते हैं-

अक्षय प्राकृतिक संसाधन-  जैसे सूर्य का प्रकाश, वायु।

क्षय प्राकृतिक संसाधन- जैसे वन्य जीवन, कोयला, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस।

कोयले के उपयोग लिखो।

  1. कोयले का प्रयोग घरो और उद्योग धंधों में ईंधन के रूप में किया जाता है।
  2. इसका उपयोग कोल गैस बनाने में किया जाता है।
  3. इसका उपयोग कोक बनाने में किया जाता है।
  4. कोयला रेल के इंजन के लिए भाप बनाने के काम आता था और अब विद्युत उत्पन्न करने के लिए तापीय शक्ति संयंत्रों में उपयोग किया जाता है।
  5. इसका उपयोग संश्लिष्ट पेट्रोल तथा संश्लिष्ट गैस बनाने के लिए किया जाता है।

कोलतार के उपयोग लिखो?

  1. कोलतार सड़कों के निर्माण में उपयोग किया जाता है।
  2. कोलतार कई प्रकार के कार्बन यौगिकों के निर्माण के लिए एवं आवश्यक कच्चे पदार्थ के रूप में उपयोग किया जाता है।जैसे- रंग रोगन, विस्फोटक पदार्थ, कृत्रिम रेशे, ओषिधीया व कीट नाशक पदार्थ आदि।

कोलतार सड़कें बनाने में प्रयोग क्यों किया जाता है?

कोलतार सड़कें बनाने में प्रयोग किया जाता है क्योंकि यह कंकरीट के साथ अच्छी तरह मिलकर साधारण तापमान पर ठोस बन जाता है।  यह सड़क को मजबूत तथा पक्का बनाता है। इसके अतिरिक्त इसमें स्नेहक तेल तथा पैराफिन मोम होती है जो सड़क को नरम रखती है। आजकल पक्की सड़कों के निर्माण में कॉल तार के स्थान पर पेट्रोलियम उत्पाद बिटूमेन का उपयोग होने लगा है।

कोयला गैस कैसे प्राप्त होती है? इसका एक उपयोग लिखो।

कोयले के प्रकरण द्वारा कोक बनाते समय प्राप्त होने वाले गैस कोयला गैस होती है।

उपयोग- यह उद्योग में ईंधन के रूप में इस्तेमाल होती है।

पेट्रोलियम के प्रमुख गुण लिखो?

  1. पेट्रोलियम एक गाढ़ा तेलीय द्रव्य है।
  2. इसकी गंध अरुचिकर होती है।
  3. यह जल में अविलेय व जल से हल्का होता है इसलिए यह इसके ऊपर तैरता है।

पेट्रोलियम के चार मुख्य उपयोग लिखो।

  1. पेंट्रोल का उपयोग हल्के वाहन, जैसे स्कूटर, मोटरसाइकिल व कार चलाने के ईंधन के रूप में किया जाता है। यह ड्राईक्लीलिंग में भी एक विलायक के रूप में प्रयुक्त होता है। इसका प्रयोग वायुयान में भी ईंधन के रूप में किया जाता है।
  2. केरोसिन अर्थात मिट्टी का तेल एकअच्छा घरेलू इंधन है। इसका उपयोग घरों में प्रकाश करने के लिए किया जाता है।
  3. डीजल का उपयोग भारी वाहनों, जैसे ट्रको, बसो, रेल गाड़ियों में ईंधन के रूप में किया जाता है। इसका उपयोग जनेटर में विद्युत उत्पादन करने के लिए भी किया जाता है।
  4. स्नेहक तेल का उपयोग मशीनों के पूर्वजों को घर्षण से बचाने के लिए स्नेहक के रूप में किया जाता है।
  5. पैराफिन वैक्स का उपयोग मूर्तियां बनाने में वह एस्फाल्ट का उपयोग सड़कें बनाने में किया जाता है।

सामान्यतः प्राकृतिक गैस कहां पाई जाती है? इसको साफ सुथरा इंधन क्यों कहते हैं?

सामान्यतः प्राकृतिक गैस पेट्रोलियम के कुओं में पेट्रोल के साथ पाई जाती है। कहीं -कहीं पृथ्वी के नीचे केवल प्राकृतिक गैस के भंडार मिले हैं। हाल ही में त्रिपुरा, जैसलमेर, मुंबई के अब तक तथा कृष्णा और गोदावरी के डेल्टा में प्राकृतिक गैस के नए स्रोतों की खोज हुई है। प्राकृतिक गैस को उच्च दाब पर भंडारित कर संबोधित किया जाता है और CNG के रूप में ट्रांसपोर्ट वाहनों में आदर्श ईंधन के रूप में प्रयुक्त होती है। प्राकृतिक गैस को साफ सुथरा इंदन इसलिए कहा जाता है क्योंकि-

  1. इनका भंडारण सहज है।
  2. इसका ज्वलनांक कम है इसलिए यह गैस आसानी से जलती है।
  3. प्राकृतिक गैस के जलने पर कोई हानिकारक एवं विषैली गैस उत्पन्न नहीं होती है।
  4. प्राकृतिक गैस के जलने पर कोई धुआं उत्पन्न नहीं होता है जिससे वायु प्रदूषण नहीं होता है।
  5. इस गैस के जलने के पश्चात अवशेष, जैसे राख आदि शेष नहीं बचते हैं।
  6. इस गैस को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने में कोई कठिनाई नहीं होती है।

प्राकृतिक गैस के चार उपयोग लिखो।

  1. यह घरों , कारखानों और उद्योग धंधों में ईंधन के रूप में काम आती है ।
  2. इस गैस की सहायता से उर्वरक भी तैयार किए जाते हैं।
  3. यह गैस वायुयानों के इंधन में प्रयुक्त की जाती है।
  4. इसका प्रयोग धातु निष्कर्षण में भी किया जाता है।
  5. इसका उपयोग CNG  के रूप में वाहन में प्रदूषण रहित ईंधन के रूप में किया जाता है।

कोयला तथा पेट्रोलियम  200-300 वर्ष के पश्चात क्यों उपलब्ध नहीं होंगे?

आजकल प्राय उर्जा हमें कोयले तथा पेट्रोलियम से प्राप्त होती है। जनसंख्या विस्फोट के कारण कोयला और पेट्रोलियम की जरूरत बढ़ गई है। इनके बनने में करोड़ों वर्ष लग जाते हैं। इसलिए यह ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोत है। ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोत इस धरती पर सीमित हैं। यदि हम इनका तेजी से प्रयोग करते गए तो 200- 300 वर्ष पश्चात ये समाप्त हो जाएंगे। इसलिए हमें ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोतों की खोज करनी चाहिए, जैसे सौर ऊर्जा, पवन ऊर्जा, जल ऊर्जा, नाभिकीय ऊर्जा आदि।

यदि जीवाश्म ईधनों का उपयोग अत्यधिक तीव्र गति से किया गया तो इसका परिणाम क्या होगा?

यदि जीवाश्म ईधनों का उपयोग अत्यधिक तीव्र गति से किया गया तो इनके विशाल भंडार जल्द ही समाप्त हो जाएंगे और पृथ्वी इन्हें उसी तीव्रता से पुन उत्पादित नहीं कर सकती क्योंकि जीवाश्म ईंधन बनने की प्रक्रिया करोड़ो वर्षो में पूरी होती है। जो जीवाश्म ईंधन आज पृथ्वी से खोदकर निकाली जा रहे हैं, वह करोड़ो वर्ष पहले  पृथ्वी में दबे जीव अवशेषों से बने हैं।

जीवाश्म इंधनों असीमित उपयोग अहितकर है,  कैसे?

जीवाश्म इंधनों का असीमित उपयोग अहितकर है क्योंकि-

  1. इनके बनने में करोड़ो वर्षो का समय लगता है और वर्तमान में इन इधनों का भंडार और अधिक समय तक चलने वाला नहीं है।
  2. इनको जलाने से वायु प्रदूषण होता है।
  3. इनका उपयोग विश्व ऊष्णन को बढ़ावा देता है।

पेट्रोलियम संरक्षण के उपयोग लिखो।

  1. गाड़ी न अधिक तेज और न ही अधिक धीमी गति से चलाएं।
  2. रेलवे फाटक बंद होने व यातायात लाइनों पर लंबी प्रतीक्षा के समय गाड़ी का इंजन बंद कर दें।
  3. टायरों में वायु दाब समय-समय पर चेक करवाते रहें।
  4. गाड़ियों का सुनिश्चित रख-रखाव नियमित समय पर करवाते रहें।
  5. कम दूरी के लिए साइकिल की सवारी ठीक रहती है।
  6. एक ही दिशा में जाने पर अलग-अलग व्यक्ति अलग-अलग गाड़ी का इस्तेमाल न करें।

More Important Article


Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 340

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 340

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/functions/media-functions.php on line 114

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 340

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/functions/media-functions.php on line 114

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 340

Warning: Trying to access array offset on value of type bool in /www/wwwroot/examvictory.com/html/wp-content/themes/jannah/framework/classes/class-tielabs-filters.php on line 340

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close