G.K

पर्यावरण अध्ययन की संकल्पना, क्षेत्र, महत्त्व

आज इस आर्टिकल में हम आपको पर्यावरण अध्ययन की संकल्पना, क्षेत्र, महत्त्व के बारे में प्रश्न उत्तर दे रहे है जोकि निम्नलिखित है-

पर्यावरण अध्ययन की संकल्पना, क्षेत्र, महत्त्व
पर्यावरण अध्ययन की संकल्पना, क्षेत्र, महत्त्व

 

Q. पर्यावरण अध्ययन हर युग के लिए महत्त्वपूर्ण है क्योंकि इसमें –

(A) भौतिक वातावरण की जानकारी बढ़ती है
(B) छात्र अपने पर्यावरण की निकटता से जानकारी प्राप्त करता है
(C) मानव को विभिन्न सामाजिक संसाधनों की जानकारी प्राप्त होती है
(D) प्रत्यक्ष एवं अपत्यक्ष रूप से मानव जीवन प्रभावित होता है

Q. पर्यावरण अध्ययन हर युग में महत्त्वपूर्ण समझा गया है,क्योंकि इसमें –

(A) आसपास की जानकारी बढ़ती है
(B) स्वतंत्रता प्राप्त होती है
(C) मानव को विभिन्न प्रकार के संसाधनों की जानकारी प्राप्त होती है
(D) प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से जीवन कार्य प्रभावित होता है

Q. भौतिक, जैविक एवं सामाजिक पर्यावरण के शिक्षण में एक महत्त्वपूर्ण अधिगम क्षेत्र है –

(A) पर्यावरण परिवर्तनों की स्थिति से अवगत कराना 
(B) जीवन भर सीखना व सिखाना
(C) प्रयोगशाला में प्रयोग करना
(D) बालकों की अभिवृतियों का विकास करना

Q. सामाजिक पर्यावरण अध्ययन शिक्षण में पर्यावरण (वातावरण) का बहुत महत्त्व है –

(A) पर्यावरण का अध्ययन क्षेत्र विस्तृत है
(B) पर्यावरण से सामाजिक अध्ययन के उद्देश्यों का निर्माण होता है 
(C) व्यक्ति पर्यावरण में रहता है
(D) पर्यावरण व्यक्ति के क्रियाकलापों को प्रभावित करता है

Q. सामाजिक पर्यावरण के अध्ययन का क्षेत्र है –

(A) मानव और उससे सम्बन्धित समुदायों का अध्ययन
(B) मानव के भौतिक परिवेश का अध्ययन
(C) राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय समस्याओं का अध्ययन
(D) मानव के प्राकृतिक एवं सामाजिक वातावरण के अन्त:सम्बन्धों का अध्ययन

Q. निम्नलिखित में से कौनसा विषय सामाजिक पर्यावरण अध्ययन के अंतर्गत नहीं आता है –

(A) नागरिक शास्त्र
(B) भौतिक शास्त्र 
(C) अर्थशास्त्र
(D) इतिहास

Q. सामाजिक पर्यावरण अध्ययन विषय के अध्यापन का मुख्य लक्ष्य है –

(A) छात्रों को नागरिकता के कर्त्तव्यों का बोध कराना 
(B) छात्रों में सामाजिकता के गुणों का विकास करना
(C) छात्रों को समृद्ध जीवन जीने के गुण बतलाना
(D) छात्रों को बीते हुए युग के मानव द्वारा किए गए कार्यों की जानकारी देना

Q. “वस्तुत: सामाजिक अध्ययन का क्षेत्र व्यापक है और सम्पूर्ण विश्व में मानव का वर्तमान सामाजिक जीवन ही इसका मूल है ” उपर्युक्त पंक्तियाँ किसने कही हैं ?

(A) ई.बी. वेस्ले ने
(B) जेम्स हैमिंग ने
(C) एम.पी. मुफात ने
(D) निकलसन

Q. सामाजिक विज्ञान विषय कहते हैं –

(A) जिस विषय का क्षेत्र संकुचित होता है
(B) जो विषय बालकों (विद्यालयी) के अध्ययन के लिए होता है
(C) जो विषय व्यावहारिक होता है 
(D) जिसकी विषय – वस्तु का बौद्धिक स्तर उच्च होता है

Q.  सामाजिक पर्यावरण के अध्ययन का महत्त्व है –

(A) बालकों का व्यक्तिगत विकास
(B) व्यावहारिक दृष्टि से
(C) अधिकार व कर्त्तव्यों का ज्ञान
(D)उपर्युक्त सभी

Q. प्राथमिक व उच्च प्राथमिक स्तर पर सामाजिक पर्यावरण विषय को महत्त्व दिया –

(A) एम.पी. मुफात ने
(B) भारतीय शिक्षा आयोग ने 
(C) कोठारी आयोग ने
(D) ई.वी. वेस्ले ने

Q. सामाजिक अध्ययन में चर्चा होती है –

(A) पर्यावरण की
(B) प्रकृति सम्बन्ध की
(C) मानव सम्बन्धी
(D) सभी की

Q. शैक्षिक अनुसंधान विश्वकोश के अनुसार सामान्य अध्ययन का अर्थ है –

(A) विभिन्न समाज विज्ञानों से प्राप्त विषय वस्तु
(B) विभिन्न समाज विज्ञानों का योग
(C) विभिन्न समाज विज्ञानों का समन्वित रूप
(D) विभिन्न समाज विज्ञानों से प्राप्त महत्त्वपूर्ण सामग्री द्वारा मानवीय सम्बन्धों को स्पष्ट करने का ढंग

Q. सामाजिक विज्ञान व सामाजिक अध्ययन में अंतर होता है क्योंकि –

(A) सामाजिक विज्ञान अनुसंधान,खोज,निष्कर्षों पर आधारित व सामाजिक अध्ययन सरलतम रूप है
(B) सामाजिक विज्ञान सैद्धांतिक व सामाजिक अध्ययन व्यावहारिक है
(C) सामाजिक विज्ञान विशेषीकरण पर बल व सामाजिक अध्ययन एकीकृत रूप पर बल देता है
(D) उपर्युक्त सभी 

Q. भारत में सामाजिक अध्ययन विषय का प्रतिपादन किया –

(A) मुदालियर कमीशन
(B) यूनिवर्सिटी एज्युकेशन कमीशन
(C) हायर सेकेंड्री एज्युकेशन कमीशन
(D) राधाकृष्णनन कमीशन

भारतीय इतिहास

Q. ‘सामाजिक अध्ययन विभिन्न विषयों का योग नहीं अपितु इनसे महत्त्वपूर्ण सामग्री प्राप्त करके मानवीय सम्बन्धों को स्पष्ट करने का ढंग है ‘ परिभाषा किसकी है ?

(A) NCERT
(B) शैक्षिक अनुसंधान विश्व कोश 
(C) NCET
(D) समाज विज्ञान शब्द कोश

Q. सामाजिक अध्ययन की नवीन संकल्पना है कि –

(A) शिक्षार्थी लोकतान्त्रिक समाज में प्रभावशाली भूमिका अदा कर सके 
(B) शिक्षार्थी अर्थोपार्जन कर सके
(C) शिक्षार्थी विषय वस्तु का ज्ञान प्राप्त कर सके
(D) शिक्षार्थी सर्वांगीण विकास कर सके

Q. सामाजिक विज्ञान के अध्ययन के नवीन पहलू हैं –

(A) समाजीकृत प्रौद्योगिकी
(B) सूचना एवं प्रौद्योगिकी
(C) सामाजिक दर्शन
(D) अंतरिक्ष अनुसंधान

Q. सामाजिक विज्ञान व सामाजिक अध्ययन में अन्तर है –

(A) एक सामाजिक विज्ञान का अध्ययन है जबकि दूसरा प्राकृतिक विषय है
(B) एक साहित्य का अध्ययन है तो दूसरा संस्कृति का
(C) एक सैद्धांतिक व दूसरा व्यावहारिक 
(D) एक उपयोगी है दूसरा अनुपयोगी

Q. सामाजिक अध्ययन का क्षेत्र है –

(A) सभी देशों का अध्ययन
(B) सभी समाजों का अध्ययन
(C) सभी विषयों का अध्ययन
(D) मानव जीवन की सम्पूर्णता व समग्रता का अध्ययन

Q. सामाजिक अध्ययन का मुख्य आधार है –

(A) सामाजिक विज्ञान 
(B) प्राकृतिक विज्ञान
(C) अंतरिक्ष विज्ञान
(D) समुद्र विज्ञान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close