G.KStudy Material

राजस्थान निर्धनता एवं बेरोजगारी से जुड़े सवाल

यहाँ पर हम आपको राजस्थान निर्धनता एवं बेरोजगारी से जुड़े सवाल दे रहे है जिससे आप Rajasthan Govt Jobs, RSMSSB, NPCIL, National Institute of Ayurveda, RTU, IRCON, MSTC Limited, HSL, AIIMS Jodhpur, RITES, Arid Forest Research Institute के एग्जाम की तैयारी कर सकते है.

Contents show

More Important Article

राजस्थान निर्धनता एवं बेरोजगारी से जुड़े सवाल

राजस्थान में निर्धनता अनुपात है?

17.15%

राजस्थान में ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में निर्धनता अनुपात क्रमश: है?

17.15% 21.7%

निर्धनता उन्मूलन को किस पंचवर्षीय योजना के मुख्य उद्देश्य के रूप में स्वीकार किया गया?

पांचवी

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना में विलय की गई योजना है?

एकीकृत ग्रामीण विकास कार्यक्रम

अंत्योदय अन्न योजना के प्रति निर्धनतम परिवार को कितने किलो गेहूं उपलब्ध कराया जाता है?

35 किलो

राजस्थान में रोजगार उपलब्ध कराने हेतु दीर्घगामी सुझाव देने के लिए गठित आजीविका मिशन के अध्यक्ष है?

मुख्यमंत्री

पन्नाधाय जीवन अमृत योजना में बीमाधन है?

रु 30000 से 50000 तक

पन्नाधाय जीवन अमृत योजना में पात्र लाभार्थी है?

बी. पी. एल. परिवार की मुखिया जिसकी आयु 18 वर्ष से 59 वर्ष है

लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत गरीब परिवारों को प्रतिमाह खाद्यान्न उपलब्ध कराया जाता है?

35 किलो

बी. पी. एल. अन्त्योदय अन्न योजना एवं अन्नपूर्णा योजना के अंतर्गत चयनित गरीबों के लिए राज्य सरकार द्वारा जारी खाद्यान्न की पहुंच उन तक सुनिश्चित किए जाने के उद्देश्य से राज्य के मिशन टिकट (फूड स्टैम्प) योजना का प्रारम्भ किया गया?

अक्टूबर, 2004

राजकौशल है?

बेरोजगार आशार्थियों के कौशल विकास हेतु गठित ‘राजस्थान रोजगार सरलीकरण एवं कौशल विकास समिति’

अक्षत योजना में बेरोजगारी भत्ता अधिकतम कितनी अवधि के लिए दिया जाता है?

2 वर्ष तक

DPIP का पूरा नाम क्या है?

डिस्ट्रिक्ट पोपुलेशन इनिशियेटिव प्रोग्राम

राज्य में 20 सूत्री कार्यक्रम की शुरुआत किसके द्वारा की गई?

इंदिरा गांधी

निर्धनता रेखा को परिभाषित किया जाता है?

प्रति व्यक्ति घरेलू व्यय के रूप में

ग्रामीण क्षेत्रों में कितने कैलोरी तथा कितना व्यय प्रतिदिन करने वाले व्यक्ति को निर्धन माना गया है?

2400 कैलोरी एवं 11.87 रू. से कम

‘जिला गरीबी उन्मूलन परियोजना’ का उद्देश्य क्या है?

ग्रामीणों निर्धनों की अर्जन क्षमता का विकास का उनका सशक्तिकरण करना एवं उन्हें निर्धनता रेखा से ऊपर उठाना

राज्य में वर्तमान बेरोजगारी का सबसे प्रमुख कारण है?

श्रम शक्ति में हुई वृद्धि के अनुपात में रोजगार का सृजन में होना

‘मुख्यमंत्री रोजगार योजना’ राज्य में कब शुरू की गई थी?

11 अक्टूबर, 1999

राजस्थान में निर्धनता की किस विचारधारा को अपनाया गया है?

निरपेक्ष

वर्ष 2001 की जनगणना के अनुसार राज्य की जनसंख्या का कितना प्रतिशत भाग बेरोजगार था?

57.89

ग्रामीण गरीबी की दृष्टि से राजस्थान का देश में स्थान है?

17वां

शहरी गरीबी की दृष्टि से राजस्थान का देश में स्थान है?

दसवां

एन. एस. एस. ओ. के 61वें चक्र के सर्वेक्षण के अनुसार वर्ष 2005 में

ग्रामीण क्षेत्रों में निर्धनों की संख्या कम हुई है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close