ScienceStudy Material

उत्तक क्या है और उत्तक के प्रकार

उत्तक एक सम्मान अथवा भिन्न प्रकार की कोशिकाओं का वह समूह है, जिसमें सभी कोशिकाए संरचना तथा कार्य की दृष्टि से समान होती है तथा उनका उद्गम भी समान होता है. जीव विज्ञान की वह शाखा, जिसके अंतर्गत ऊतकों का अध्ययन किया जाता है, उत्तक विज्ञान कहलाती है. आज इस आर्टिकल में हम आपको उत्तक क्या है और उत्तक के प्रकार के बारे में बताने जा रहे है.

उत्तक क्या है और उत्तक के प्रकार

उत्तक क्या है और उत्तक के प्रकार
उत्तक

उत्तक

ऊतक (tissue) किसी जीव के शरीर में कोशिकाओं के ऐसे समूह को कहते हैं जिनकी उत्पत्ति एक समान हो तथा वे एक विशेष कार्य करती हो। अधिकांशतः ऊतकों का आकार एवं आकृति एक समान होती है। परन्तु कभी-कभी कुछ उतकों के आकार एवं आकृति में असमानता पाई जाती है, किन्तु उनकी उत्पत्ति एवं कार्य समान ही होते हैं। कोशिकाएँ मिलकर ऊतक का निर्माण करती हैं। ऊतक में समान संरचना और कार्य होते हैं।

पादपों में पोषण की प्रक्रिया और विधि

जंतु उत्तक

कोशिकाओं की संरचना, आकार, कार्य एवं अंतराकोशिकीय, पदार्थ के आधार पर जंतु उत्तक चार प्रकार के होते हैं-  उपकला उत्तक, संयोजी उत्तक है, पेशीय उत्तक, तंत्रिका उत्तक

  1. उपकला ऊतक या एपिथीलियमी ऊतक
  2. संयोजी ऊतक
  3. पेशी ऊतक
  4. तंत्रिका ऊतक
  5. जनन ऊतक

पादप उत्तक

विकास के आधार पर पादप उत्तक मुख्यतया दो प्रकार के होते हैं-  विभाज्योतकी उत्तक, स्थायी उत्तक

आज इस आर्टिकल में हमने आपको उत्तक क्या है और उत्तक के प्रकार, उपकला ऊतक के प्रकार, पादप ऊतक के प्रकार, संयोजी ऊतक के प्रकार, विभज्योतक ऊतक क्या है, पादप ऊतक क्या है, जन्तु ऊतक के बारे में बताया है, अगर आपको इससे जुडी कोई अन्य जानकारी चाहिए तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close