G.K

विभिन्न ऋतुओं में पहने जाने वाले वस्त्र

आज इस आर्टिकल में हम आपको विभिन्न ऋतुओं में पहने जाने वाले वस्त्र के बारे में जानकारी देने जा रहे है जो निम्नलिखित है-

विभिन्न ऋतुओं में पहने जाने वाले वस्त्र
विभिन्न ऋतुओं में पहने जाने वाले वस्त्र

Q. ऊन बनती है –

(A) भेड़ के बालो से
(B) ऊँट के बालो से
(C) याक के बालो से
(D) उपरोक्त सभी 

Q. कृत्रिम रेशों से तैयार वस्त्र की विशेषता है –

(A) नहीं सिकुड़ना
(B) जल्दी सूखना
(C) कीड़ा नहीं लगना
(D) उपरोक्त सभी 

Q. वस्त्रों के रख – रखाव में सम्मिलित हैं –

(A) धुलाई
(B) इस्त्री करना
(C) सुरक्षा
(D) उपरोक्त सभी 

Q. ऊनी वस्त्रों को कीड़ों से बचाने के लिए प्रयुक्त करते हैं –

(A) पेट्रोल
(B) नैफ्थलीन की गोलियाँ 
(C) नींबू
(D) मिट्टी का तेल

Q. कपड़ों से स्याही के धब्बे छुड़ाने के लिए काम में लिया जाता है –

(A) नमक एवं नींबू का रस 
(B) नमक एवं पपीते का रस
(C) पेट्रोल
(D) उपरोक्त सभी

Q. ऊनी एवं रेशमी कपड़ों को धोने का सर्वोत्तम तरीका है –

(A) वूलक्सीन
(B) ड्राईक्लीन 
(C) रोलक्लीन
(D) वेट वॉशिंग

Q. किसी वातावरण के अनुरूप वहाँ के पौधों और जन्तुओं में पाई जाने वाली शारीरिक विशेषताओं को कहते हैं ?

(A) विशेषण
(B) लक्षण
(C) अनुकूलन 
(D) रूपान्तरण

Q. पानी में पाए जाने वाले पौधों की विशेषता होती है –

(A) छोटी – छोटी जड़ें
(B) खोखला तना
(C) पत्तियों पर श्लेष्मा की पटल
(D) उपर्युक्त सभी 

Q. मरुस्थलीय पौधों की विशेषता नहीं होती है –

(A) काँटेदार
(B) कम गहरी जड़ें 
(C) छोटी पत्तियाँ
(D) पतझड़

शिक्षण सामग्री से जुड़े प्रश्न उत्तर

Q. जीव – जन्तु अपनी किन विशेषताओं के कारण विशेष प्रकार के वातावरण में रहने के योग्य हो जाते हैं –

(A) शारीरिक 
(B) मानसिक
(C) सांवेगिक
(D) सामाजिक

Q. निम्नलिखित में से कौनसे पौधे मरुस्थलीय में नहीं पाए जाते हैं –

(A) नागफनी
(B) डंडाथोर
(C) सिंघाड़ा 
(D) ग्वारपाठा

Q. मछली के शरीर का कौनसा अंग उसकी सुरक्षा करता है –

(A) शल्क 
(B) गलफड़ा
(C) पंख
(D) मुँह

Q. छोटी – छोटी पत्तियों वाले पौधे पाये जाते हैं –

(A) मरुस्थल में
(B) बर्फीले प्रदेश में
(C) पानी के अन्दर
(D) उपर्युक्त सभी 

Q. ऊँट कई दिनों तक बिना पानी पिए रह सकता है क्योंकि –

(A) मूत्र गाढ़ाहोता है
(B) पसीना कम आता है
(C) मल ठोस होता है
(D) उपर्युक्त सभी  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close