G.K

क्रियात्म्क अनुसंधान का उद्देश्य

आज इस आर्टिकल में हम आपको क्रियात्म्क अनुसंधान का उद्देश्य के बारे में जानकारी देने जा रहे है-

क्रियात्म्क अनुसंधान का उद्देश्य
क्रियात्म्क अनुसंधान का उद्देश्य

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान को शिक्षा क्षेत्र में प्रतिष्ठित किया –

(A) गुड ने
(B) रॉबिन्सन ने
(C) कोरे ने 
(D) लेविन ने

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान का सूत्रपात किस देश में हुआ –

(A) फ्रांस में
(B) अमेरिका में 
(C) भारत में
(D) ब्रिटेन में

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान शिक्षा जगत में कब प्रतिष्ठित हुआ –

(A) 1953 में 
(B) 1946 में
(C) 1961 में
(D) 1935 में

Q.  ‘क्रियात्म्क अनुसंधान’ शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम किया –

(A) कोरे ने
(B) कोलियर ने 
(C) राइटस्टोन ने
(D) बेस्ट ने

Q.  “शिक्षा में क्रियात्म्क अनुसंधान वह प्रक्रिया है जिसके द्वारा प्रयोगकर्त्ता अपनी समस्याओं का वैज्ञानिक रूप से अध्ययन करके अपने कार्यों में सुधार करता है |” यह परिभाषा किसकी है –

(A) स्टीफन कोरे की 
(B) मौली की
(C) कार्टर गुड की
(D) बेस्ट की

बालक अभिप्रेरणा एवं अधिगम

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान के लिए आवश्यक है –

(A) प्रख्यात शिकहक
(B) पर्याप्त समय
(C) परिकल्पना निर्माण 
(D) कक्षा – कक्ष

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान का संबंध होता है –

(A) विद्यालय की समस्याओं से 
(B) छात्रों के परिजनों से
(C) शिक्षकों की घरेलू समस्याओं से
(D) मनोरंजन से

Q.  किस विद्वान ने क्रियात्म्क अनुसंधान में सात सोपान आवश्यक माने हैं –

(A) राबर्टसन ने
(B) एंडरसन ने 
(C) पीटरसन ने
(D) सिम्पसन ने

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान में किन समस्याओं का समाधान नहीं किया जाता है –

(A) बाल – व्यवहार संबंधी समस्या
(B) शिक्षण संबंधी समस्या
(C) परीक्षा संबंधी समस्या
(D) घरेलू करी संबंधी समस्या 

Q.  निम्नलिखित में से बाल – व्यवहार संबंधी समस्या नहीं है –

(A) यौन अपराध कर्ण
(B) उपलब्धियों का सही मूल्यांकन नहीं होना 
(C) विद्यालय से भाग जाना
(D) कक्षा मई लड़ाई – झगड़ा करना

Q.  ‘क्रियात्म्क अनुसंधान’ का मूल उद्देश्य है –

(A) विद्यालय की करी प्रणाली में सुधार करना |
(B) विद्यालय का आर्थिक ढाँचा सुधारना |
(C) नये सिद्धान्तों की खोज करना |
(D) पुराने सिद्धान्तों की व्याख्या करना |

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान सीमित होता है –

(A) घर तक
(B) विद्यालय तक 
(C) समाज तक
(D) कक्षा तक

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान से हल की जा सकती है –

(A) पर्यावरण प्रदूषण की समस्या
(B) समाज की बुराइयाँ
(C) बालकों में धूम्रपान की आदत 
(D) उपर्युक्त सभी

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान का प्रथम पद है –

(A) समस्या का चयन
(B) तथ्यों का संग्रह
(C) समस्या का ज्ञान 
(D) योजना का कार्यान्वयन

Q.  “क्रियात्म्क अनुसंधान शिक्षकों, निरीक्षकों और प्रशंसको द्वारा अपने निर्णयों और कार्यों की गुणवत्ता में सुधार हेतु प्रयोग किया जाने वाला अनुसंधान है |” यह परिभाषा किसकी है –

(A) मौली की
(B) गुड की 
(C) कोरे की
(D) एंडरसन की

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान का उद्देश्य है –

(A) विद्यालय की कार्यप्रणाली में सुधार
(B) विद्यालय के संगठन में सुधार
(C) छात्र व शिक्षकों में दोषों का निराकरण
(D) उपर्युक्त सभी 

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान में परिणामों का प्रयोगकर्त्ता होता है –

(A) शोधनकर्त्ता 
(B) पर्यवेक्षक
(C) प्रधानाध्यापक
(D) विद्यालय के छात्र

Q.  क्रियात्म्क अनुसंधान का सोपान है –

(A) समस्या केएस चयन
(B) तथ्य संग्रह विधियाँ
(D) योजना का कार्यान्वयन
(D) उपर्युक्त सभी 

आज इस आर्टिकल में हमने आपको क्रियात्म्क अनुसंधान के बारे में बताया इसको लेकर आपका कोई सवाल है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है-

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close