G.KStudy Material

राजस्थान नाट्य, नृत्य एवं संगीत प्रश्नोत्तरी

राजस्थान नाट्य, नृत्य एवं संगीत प्रश्नोत्तरी, Rajasthan naaty koun koun se hai, rajasthan nrity koun koun se hai, rajasthan prshnotri, rajasthan sangeet se jude swaal, rajasthan naaty, nrity, aur sangeet

Contents show

More Important Article

राजस्थान नाट्य, नृत्य एवं संगीत प्रश्नोत्तरी

1960 में बोरुदा ग्राम (जोधपुर जिला) में स्थापित होने वाला संस्थान है?

रूपायन संस्थान

नृत्य नाटक ‘सूरदास’ (बोरीबोरी) डोकरी एवं शंकरिया किस पेशेवर लोक नृत्य से संबंधित है?

भवाई

भवाई नृत्य की पहली महिला कलाकार जिसने राजस्थान और उसके बाहर इस निर्णय को पहचान दिलाई

जोधपुर की पुष्पा व्यास

झूमर नृत्य को प्रसिद्ध किया

डाली बाई

भीलों में प्रचलित नृत्य जो शौर्यपरक कठिन साहस का घोतक है?

हाथीमना नृत्य

आहोर (जालौर) के बिजली गांव का प्रसिद्ध नृत्य है?

शूकर नित्य

संगीत’रत्नाकर के रचनाकार कौन है?

शारंग देव

संगीत परिजात किसने लिखा?

अहोबल

राजस्थान संगीत नाटक अकादमी कहां स्थित है?

जोधपुर

कौन-सा तत् वाद्य नहीं है?

नौबत

कला धरोहर का संरक्षण तथा राज्य के कलाकारों को प्रोत्साहित करने के लिए जयपुर में सन 1993 में किस केंद्र की स्थापना की गई थी?

जवाहर कला केंद्र

‘पिया बसंती’ का एलबम तथा ‘अलबेला सजन घर आयो’ के गायक है?

उस्ताद सुल्तान खान

उस्ताद सुल्तान खान है?

सारंगी वादक

राजस्थान के वे कलाकार जो प्रख्यात कथक नर्तक होने के साथ-साथ अद्वितीय तबला वादक एवं पखावज वादक भी थे?

पं. दुर्गालाल

बांसवाड़ा की सुश्री प्रेरणा श्रीमाली है?

जयपुर घराने की कथक कलाकार

राजस्थानी रंगमंच को सृजनात्मक रूप देने वाले कलाकार श्री कन्हैयालाल पंवार का जन्म हुआ?

जोधपुर

‘कथा कही एक जले पेड़ ने’ तथा चंद्रमासिंफ उर्फ चमकू नाटक के लेखक है?

भानू भारती

किशनगढ़ की श्रीमती फूलबाई ने किस नृत्य को लोकप्रिय बनाने में अद्वितीय योगदान दिया?

गुजरों की चरी नृत्य

राजस्थान में भूतपर्व मुख्यमंत्री श्री जयनारायण व्यास किस नृत्य को प्रकाश में लाए?

ढोल नृत्य

अलवर-भरतपुर क्षेत्र में होली के अवसर पर नई फसल आने की खुशी में केवल पुरुषों द्वारा नगाड़ों की ताल पर किया जाने वाला नृत्य है?

बम नृत्य

कजली किस नृत्य की प्रसिद्ध नृत्यांगना है?

भवाई नृत्य

किस नृत्य में कलात्मक अदाकारियाँ प्रस्तुत की जाती है?

भवाई

राधा गोविंद संगीत सार के निर्माण का श्रेय है?

देवर्षि भट्ट ब्रजपाल

भारत में प्रथम नुक्कड़ नाटक खेलने का श्रेय दिया जाता है?

श्री एस. वासुदेव को

भारतीय कठपुतली कला को विश्व मंच पर प्रतिष्ठता दिलाने का श्रेय है?

श्रीदेवीलाल सामर

लोक वाद्य एवं लोक कलाओं को विश्व मंच तक ले जाने का अभूतपूर्व कार्य किया?

पद्मश्री कोमल कोठारी

‘चरकुला नृत्य’ प्रसिद्ध है?

मेवात क्षेत्र का

इंडोनी, शंकरिया, पिंहारी, बगड़िया किस जाति के नृत्य है?

कालबेलिया

विवाह के अवसर पर गणपति स्थापना के पश्चात रात्रि में गरसिया पुरुषों द्वारा किया जाने वाला नृत्य है?

मौरिया नृत्य

जयपुर के कथक घराणा के प्रवर्तक कौन है?

भानूजी

दिल्ली घराना के प्रवर्तक कौन थे?

नियामत खान

‘अमर सिंह राठौर रम्मत’ में अमरसिंह का किरदार सर्वप्रथम अभिनीत किया था?

तेजकवि (गौरीशंकर सेवग)

राजस्थान के किस शासक ने प्रसिद्ध संगीतज्ञ एवं विद्वानों की मंडली ‘गंधर्व बाइसी’ को अपने दरबार में सरक्षण दिया था?

सवाई प्रतापसिंह

कवि तेज की प्रमुख रचना है?

आई नाथ अड्ताललीसी, स्वराज बावनी, राजा जोग भृहथरी

घड़ावण और वलावण संबंधित है?

गवरी लोक नाट्य से

‘भँवरा दानव’ , ‘बडल्या-हिंदवा’ खतेड़ी रोई मछला प्रसंग किससे संबंधित है?

गवरी लोकनाट्य

सुंदरी लूनांदे का संबंध किस लोक नाट्य से है?

भक्त पूरणमल

राजस्थान में तुर्रा-कलंगी लोक नाट्यों का प्रचलन प्रारंभ हुआ?

चित्तौड़गढ़

जवाहरलाल पुरोहित द्वारा शुरू किया गया हेडाऊ मेरी की रम्मत के मुख्य वाद्य है?

नगाड़ा ढोलक

बंशीधर बटे किस लोक नाट्य के प्रमुख कलाकार थे?

तमाशा

गौहर जान किस लोक नाट्य से संबंधित है?

तमाशा

राजस्थान में नौटंकी का प्रचलन किया

डीग (भरतपुर) में भूर्रिलाल

गवरी प्रसिद्ध लोक नाट्य है?

भीलों का

चरी नृत्य किस जाति की महिलाओं द्वारा किया जाता है?

गूजर

गवरी नृत्य में ‘पूरिया’ किसे कहा जाता है?

शिव

तेरहताली नृत्य का प्रमुख वाद्य कौन-सा है?

मंजीरा

कौन-सा वाद्य यंत्र आधे कटे नारियल की कटोरी पर खाल मंढकर बनाया जाता है?

रावण हत्था

ओपेरा शैली पर आधारित रंगमंचीय व्यवस्थाओं एवं जटिल तकनीक के अनूठे संगम के लिए प्रसिद्ध भवानी नाट्यशाला स्थित है?

झालवाड़

जहूर खान मेवाती, उमर फारुख मेवाती आदि वादक है?

भपंग के

कामड़ जाति के लोग बजाते हैं?

तंदूरा

सुषिर वाद्यों में सर्वश्रेष्ठ, सुरीला एवं मांगलिक वाद्य है?

शहनाई

जैसलमेर-बाड़मेर में गडरिये मेघवाल और मुस्लिमों द्वारा बजाया जाने वाला वाद्य है?

सतारा

करणा भील किस वाद्य का प्रसिद्ध वादक है?

नड़

‘हर का हिंडोला’ है?

वृद्ध की मृत्यु पर गाया जाने वाला गीत

‘आंम्बो मोरियो’ है?

परिवारिक सुख को चित्रित करने वाला एक गीत

नीबू, कसूम्बो, रिड़मल, ‘मधकर’ एक थनमियौ महल कोछबियों राणों बीजा सोरठ आदि’ है?

लोकगीत

‘झल्ले आउवो’ गीत में किसका वर्णन है?

अंग्रेजों के ठाकुर कुशलसिंह के परिवार का

‘रोला व्यापारियों’ गीत में वर्णन किया गया है?

अंग्रेजों की ‘फूट डालो’ राज करो की नीति का

परसी रंगमंच के ख्यातिलब्ध राजस्थानी कलाकार थे?

स्व. बाबू माणिक्यलाल डांगी, कन्हेयालाल पँवार, गणपत लाल डांगी

राजस्थानी नाटकों के जनक एवं निर्देशक है?

कन्हैयालाल पँवार

अलवर का ‘रसखान’ कहा जाता है?

रावली अलिबख्श

‘सपेरा नृत्य’ किस जाति का है?

कालबेलिया

‘मोर नृत्य’ किस जाति की स्त्रियों द्वारा किया जाता है?

नट

‘बरगू’ है?

सुषिर वाद्य

उमराव है?

गीदड़ खेलने के समय गाया जाने वाला लोकगीत

राजस्थान का राजवाड़ी गीत ‘केसरिया बालम’ किस राग में गाया जाता है?

मांड

कोयलडी गीत कब गाया जाता है?

कन्या पक्ष की स्त्रियों द्वारा कन्या की विदाई के समय

बिछुड़ो है?

हाड़ौती क्षेत्र का एक लोकगीत

राजस्थानी लोकगीत ‘पटेल्या’ किसके द्वारा रचित है?

श्री तारादत्त ‘निर्विरोध’

जोधपुर में लोक कला संग्रहालय का उद्घाटन कब किया गया?

3 जनवरी, 2000

‘चौकड़िया’ है?

हाड़ौती क्षेत्र में प्रचलित लोक नाट्य

‘मरुभूमि की कोकिला’ कहा जाता है?

अल्लाह जिलाई बाई

परशुराम (परशुराम) है?

बहरूपिया कलाकार

‘अमर सिंह राठौड़ रम्मत’ के प्रमुख पात्र हैं?

नागौर के राजा राठौड़ अमर सिंह, बादशाह शाहजहाँ का साला सूबेदार सलावत खान, हाड़ौती के हाड़ाराव की कुँवरी (हाड़ी रानी)

गुलाबो किस क्षेत्र में विख्यात है?

लोकनृत्य

बाहर गुवाड़ के चौक में खेली जाने वाली ‘हेडाऊ-मेरी री मरम्मत के उस्ताद थे?

तनसुखदास जी रंगा

‘हेडाऊ मेरी री रम्मत का कथानक है?

शृंगार रस प्रधान

राजस्थान के पूर्वी क्षेत्र (अलवर-भरतपुर) में सर्प के काटे हुए का लोक देवताओं के यहां इलाज करते समय बजाया जाने वाला वाद्य है?

भरनी

दौसा, लालसोट, सवाई माधोपुर आदि क्षेत्रों में प्रचलित ख्याल है?

हेला

‘मेडिया’ पात्र किस ख्याल में विशेषता: भूमिका निभाता है?

कन्हैया

‘पाबूजी के पवाड़ों’ के गायन में प्रयुक्त लोक वाद्य हैं?

माठ

जवारा नृत्य किस जाति से संबन्धित है?

गरासिया

झाडशाही ख्याल किस क्षेत्र में प्रचलित है?

ढूंढाड़ क्षेत्र

कौन-सा वाद्य ‘वीणा’ के आकार का होता है एवं ‘वीणा’ का प्रारंभिक रूप कहा जाता है?

जंतर

‘कुचामण’ ख्याल शैली के नारी पात्रों की भूमिका के लिए विख्यात कलाकार थे?

उगमराज

राजस्थान की प्रथम एवं एकमात्र महिला ध्रुपद गायिका है?

मधु भट्ट तैलंग

सारंगी को एकल वाद्य के रूप में प्रतिष्ठित करने का श्रेय किसे है?

पं. रामनारायण

अपने यजमानों की वंशवलियाँ लिखना तथा उनका बखान किस जाति का प्रमुख कार्य है?

भाटों का

लोक नाट्यों का मेरु नाट्य किसे कहा जाता है?

गवरी

प्रसिद्ध संगीतज्ञ रमाबाई किसकी पुत्री थी?

महाराणा कुंभा

‘इंडियन म्यूजिक’ नामक पुस्तक लिखी?

विलियम जेम्स

उत्तरी मेवाड़ के भीलों का प्रसिद्ध लोक गीत जिसे स्त्री-पुरुष साथ मिलकर गाते हैं?

हमसीढों

करौली क्षेत्र की कुल देवी ‘केला देवी’ की आराधना में गाए जाने वाले गीत हैं?

लांगुरिया

रसधारी लीला का सर्वप्रथम प्रारंभ हुआ?

गोंडवाड़ क्षेत्र में

नृत्य के साथ तबले और सारंगी का संगम किस स्वांग में दर्शनीय है?

चीरा स्वांग

चौक च्याननी है?

गणेश चतुर्थी पर बालकों द्वारा किया जाने वाला स्वांग

फतेहपुर निवासी प्रहलादीराम झालीराम पुरोहित ने किस ख्याल की प्रतिष्ठा की?

शेखावटी ख्याल

नौटंकी ख्यालों को पेशेवर बनाने का श्रेय प्राप्त है?

नात्थाराम को

‘पवाड़े’ है?

लोकनायकों की वीर रसात्मक लोक गाथाएं

किसी विरहिनी नायिका द्वारा अनुभूत वियोगजन्य दुखों का वर्णन करने वाले गीत हैं?

बारहमासी

गरासियों का ‘गौर नृत्य’ आयोजित होता है?

चैत्र शुक्ल चतुर्थी

कौन-सा नृत्य ‘फूलों के श्रृंगार’ के लिए प्रसिद्ध है?

झूमर नृत्य

डमरु एवं पिनाक का प्रवर्तक माना जाता है?

शिव

‘रुलाने वाले फकीर’ के नाम से प्रसिद्ध संगीतज्ञ थे?

मानतोल खान

प्रसिद्ध बनकार श्री रजब अली खान जयपुर के किस शासक के दरबार में थे?

सवाई रामसिंह

राजस्थान का प्रसिद्ध पखावज वादक है?

पंडित पुरुषोत्तम दास

ख्याल शैली के जयपुर घराने के प्रवर्तक माने जाते हैं?

मनरंग

वह संगीतज्ञ जो काका के नाम से प्रसिद्ध थे?

गुलाम खान

रवीन्द्र रंगमंच स्थित है?

जयपुर में

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close